Monday, December 18, 2017

Breaking News

   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद     ||   अश्विन ने लगाया विकेटों का सबसे तेज 'तिहरा शतक', लिली को छोड़ा पीछे     ||   पूरा हुआ सपना चौधरी का 'सपना', बेघर होने के साथ बॉलीवुड से मिला बड़ा ऑफर    ||   PAK सरकार ने शर्तें मानीं, प्रदर्शन खत्म करने कानून मंत्री को देना पड़ा इस्तीफा    ||   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||

टेरर फंडिंग मामले में ईडी का शिकंजा, शब्बीर शाह के करीबी असलम वानी को किया गिरफ्तार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
टेरर फंडिंग मामले में ईडी का शिकंजा, शब्बीर शाह के करीबी असलम वानी को किया गिरफ्तार

नई दिल्ली।

टेरर फंडिंग मामले में अलगाववादी नेताओं पर जांच का शिकंजा कसता जा रहा है। एनआईए ने इस मामले की जांच के दौरान सात अलगाववादी नेताओं को ​गिरफ्तार किया है और लगातार इस मामले में छापेमारी कर कई अहम सबूत जुटाए हैं। वहीं अब प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी इस मामले में कार्रवाई करते हुए अलगाववादी नेता शब्बीर शाह के करीबी असलम वानी को गिरफ्तार किया। असलम को श्रीनगर से गिरफ्तार किया गया। ईडी की टीम उसे  लेकर दिल्ली आ रही है। दिल्ली में उसे कोर्अ में पेश किया जाएगा। जानकारी के अनुसार, असलम पर हवाला कारोबारियों से पैसे लेकर आतंकियों को देने का आरोप है।  

ये भी पढ़ें— टेरर फंडिंग मामले में बड़ा खुलासा, हुर्रियत नेताओं के पास से एनआईए को मिली एक लिस्ट, जिसमें ह...

बता दें कि 25 जुलाई को एनआईए ने शब्बीर शाह को गिरफ्तार किया। ईडी ने शाह को कई बार समन जारी किया लेकिन वह कभी जांच एजेंसी के सामने उपस्थित नहीं हुआ। पिछले महीने दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया था। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर कश्मीर से दिल्ली लाया गया था। शाह और वानी दोनों मनी लॉन्ड्रिंग के तहत आपराधिक मामले का सामना कर रहे हैं।


ये भी पढ़ें— टेरर फंडिंग मामला : एनआईए ने गिलानी के बेटे को पूछताछ के लिए दिल्ली बुलाया

वानी पर हवाला डीलर होेने का संदेह है और उसे इससे पहले भी साल 2015 में दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। तब उसने दिल्ली पुलिस के सामने कबूल किया था कि उसने शब्बीर शाह को 2.25 करोड़ दिए थे।

 

Todays Beets: