Thursday, December 13, 2018

Breaking News

   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||    दिल्ली: TDP नेता वाईएस चौधरी को HC से राहत, गिरफ्तारी पर रोक     ||    पूर्व क्रिकेटर अजहर तेलंगाना कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए     ||   किसानों को कांग्रेस ने मजबूर और बीजेपी ने मजबूत बनाया: PM मोदी     ||

लालू परिवार को ईडी ने दिया बड़ा झटका, दानापुर में बन रहे माॅल को किया सील

अंग्वाल न्यूज डेस्क
लालू परिवार को ईडी ने दिया बड़ा झटका, दानापुर में बन रहे माॅल को किया सील

पटना। राष्ट्रीय जनता दल के मुखिया लालू प्रसाद के परिवार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पटना के बेली रोड पर बनने वाले माॅल पर पर्यावरण मंत्रालय द्वारा रोक लगाने के बाद अब प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एक और बड़ा झटका दिया है। ईडी ने दानापुर में बन रहे लालू परिवार के माॅल को सील कर दिया है। बताया जा रहा है कि करीब 750 करोड़ की लागत से बन रहा बिहार का यह सबसे बड़ा मॉल है। 

गौरतलब है कि इससे पहले भारत सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने पटना के बेली रोड पर सगुना मोड़ के पास लालू यादव परिवार के बन रहे चर्चित मॉल के निर्माण पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी थी। बता दें कि यह जमीन पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, उनके बड़े बेटे तेज प्रताप यादव और छोटे बेटे तेजस्वी यादव के नाम पर है। इस जमीन का सर्किल रेट 44.7 करोड़ रुपये है, लेकिन इसे लालू यादव की कंपनी लारा प्रोजेक्ट ने वर्ष 2005-06 में महज 65 लाख रुपये में खरीदा था।


ये भी पढ़ें - सांबा में पाकिस्तान ने तोड़ा सीजफायर, बीएसएफ के 3 अफसर समेत 1 जवान शहीद, 3 घायल

गौर करने वाली बात है कि लालू परिवार के इस माॅल के बारे में उस वक्त सामने आया था जब माॅल के निर्माण का काम शुरू होते ही बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने इसकी मिट्टी को 90 लाख रुपये में बिहार सरकार के पर्यावरण और वन विभाग को बेचने का आरोप लगाया था। इस मामले में ईडी तेजस्वी और राबड़ी से पूछताछ कर चुकी है।

Todays Beets: