Saturday, February 16, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

लालू परिवार को ईडी ने दिया बड़ा झटका, दानापुर में बन रहे माॅल को किया सील

अंग्वाल न्यूज डेस्क
लालू परिवार को ईडी ने दिया बड़ा झटका, दानापुर में बन रहे माॅल को किया सील

पटना। राष्ट्रीय जनता दल के मुखिया लालू प्रसाद के परिवार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पटना के बेली रोड पर बनने वाले माॅल पर पर्यावरण मंत्रालय द्वारा रोक लगाने के बाद अब प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एक और बड़ा झटका दिया है। ईडी ने दानापुर में बन रहे लालू परिवार के माॅल को सील कर दिया है। बताया जा रहा है कि करीब 750 करोड़ की लागत से बन रहा बिहार का यह सबसे बड़ा मॉल है। 

गौरतलब है कि इससे पहले भारत सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने पटना के बेली रोड पर सगुना मोड़ के पास लालू यादव परिवार के बन रहे चर्चित मॉल के निर्माण पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी थी। बता दें कि यह जमीन पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, उनके बड़े बेटे तेज प्रताप यादव और छोटे बेटे तेजस्वी यादव के नाम पर है। इस जमीन का सर्किल रेट 44.7 करोड़ रुपये है, लेकिन इसे लालू यादव की कंपनी लारा प्रोजेक्ट ने वर्ष 2005-06 में महज 65 लाख रुपये में खरीदा था।


ये भी पढ़ें - सांबा में पाकिस्तान ने तोड़ा सीजफायर, बीएसएफ के 3 अफसर समेत 1 जवान शहीद, 3 घायल

गौर करने वाली बात है कि लालू परिवार के इस माॅल के बारे में उस वक्त सामने आया था जब माॅल के निर्माण का काम शुरू होते ही बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने इसकी मिट्टी को 90 लाख रुपये में बिहार सरकार के पर्यावरण और वन विभाग को बेचने का आरोप लगाया था। इस मामले में ईडी तेजस्वी और राबड़ी से पूछताछ कर चुकी है।

Todays Beets: