Friday, June 22, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

बोर्ड की परीक्षाओं में होने वाले फर्जीवाड़े पर लगेगी लगाम, शिक्षकों को जारी होंगे विशेष कोड

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बोर्ड की परीक्षाओं में होने वाले फर्जीवाड़े पर लगेगी लगाम, शिक्षकों को जारी होंगे विशेष कोड

लखनऊ। राज्य सरकार ने बोर्ड की परीक्षा में होने वाले फर्जीवाड़े पर लगाम लगाने की कवायद तेज कर दी गई है। उत्तरप्रदेश में पहली बार यह फैसला लिया गया है कि बोर्ड की परीक्षा में ड्यूटी देने वाले हर शिक्षक को विशेष कोड दिया जाएगा ताकि परीक्षा के दौरान कोई भी फर्जी शिक्षक बनकर गार्डिंग न कर सके। बता दें कि पहले ही घटनाओं से सबक लेते हुए राज्य के शिक्षा विभाग ने यह फैसला लिया है।

शिक्षकों को मिलेंगे विशेष कोड

गौरतलब है कि राज्य में होने वाली परीक्षाओं के दौरान बड़े पैमाने पर फर्जीवाड़े के मामला सामने आते रहे हैं जिससे सरकार की काफी किरकिरी हुई है। अब योगी सरकार ने इस पर लगाम लगाने की प्रक्रिया तेज कर दी है। यहां बता दें कि इस साल होने वाली बोर्ड परीक्षा मार्च में शुरू होने वाली है ऐसे में अब शिक्षकों को विशेष कोड देने की तैयारी की जा रही है।

ये भी पढ़ें - तमिलनाडू में विधायकों को मिलेगी दोगुनी सैलरी, सीएम ने सदन में किया विधेयक पेश, किसानों की मां...


शिक्षकों की विशेष पहचान

आपको बता दें कि शिक्षकों के परिचय पत्र के साथ शिक्षकों का ब्योरा परीक्षा कार्यालय में जमा किया जा रहा है। इसके आधार पर विभाग सभी शिक्षकों को विशेष कोड जारी करेगा। इस कोड से ही ड्यूटी करने वाले शिक्षक पहचाने जाएंगे बता दें कि यह कोड विभाग के साथ ही शिक्षक के परिचय पत्र पर भी अंकित होगा। बोर्ड परीक्षा में निरीक्षण के समय कोड देखकर ही शिक्षक का पूरा ब्योरा सामने आ जाएगा। यहां यह भी जान लें कि शिक्षा विभाग ने परीक्षा के दौरान शिक्षकों की ड्यूटी प्रक्रिया में भी बदलाव किया है। अब खुद विभाग ही शिक्षकों की ड्यूटी निर्धारित करेगा। पहले यह जिम्मेदारी केन्द्र निरीक्षक को दी जाती थी वे फोन कर शिक्षकों को ड्यूटी के लिए बुलाते थे। 

 

Todays Beets: