Wednesday, January 24, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

फिल्‍ममेकर सुजॉय घोष ने IFFI जूरी प्रमुख पद से दिया इस्तीफा, दो फिल्में हटाए जाने से नाराज

अंग्वाल न्यूज डेस्क
फिल्‍ममेकर सुजॉय घोष ने IFFI जूरी प्रमुख पद से दिया इस्तीफा, दो फिल्में हटाए जाने से नाराज

मुंबई ।  फिल्मकार सुजॉय घोष ने भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) के इंडियन पैनोरमा डिवीजन से इस्तीफा दे दिया है। घोष ने इस बात की जानकारी खुद दी है। उन्होंने अपना इस्तीफा उस विवाद के बाद दिया है, जिसको लेकर खबरें हैं कि अंतिम सूची में से दो फिल्मों को हटाए जाने से वह नाराज थे। असल में 13 सदस्यीय ज्यूरी की सिफारिशों को नामंजूर करते हुए सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने फिल्म महोत्सव के 48वें संस्करण से मलयालम फिल्म 'एस दुर्गा' और मराठी फिल्म 'न्यूड' को हटा दिया था। जब घोष से इस्तीफे के कारणों से बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हां कारण यही है लेकिन मैं इस बारे में ज्यादा बात नहीं करना चाहता। 

बता दें कि फिल्म महोत्सव के 48वें संस्करण का आयोजन 20 नवंबर से 28 नवंबर को गोवा में होगा। इस महोत्सव के लिए  निर्णायक समिति द्वारा तैयार की गई सूची में से दो फिल्मों को मंत्रालय के हटा दिया है। मंत्रालय के इस फैसले से समिति के कई सदस्य नाराज हैं। समिति के एक सदस्य ने बताया कि निर्णायक समिति ने 20-21 सितंबर को ही मंत्रालय को अपनी सूची सौंप दी थी लेकिन इस सूची को हाल ही में सामने रखा गया। इस सूची में से मलयालम फिल्म 'एस दुर्गा' और मराठी फिल्म 'न्यूड' को हटा दिया है। 


दोनों फिल्मों के निर्देशकों ने बताया कि वह मंत्रालय के इस फैसले से बेहद निराश और चकित हैं. 'एस दुर्गा' के निर्देशक सनल कुमार शशिधरण ने कहा कि वह मंत्रालय द्वारा उठाए गए इस ''चालाकीपूर्ण कदम'' के खिलाफ अदालत जाएंगे।

Todays Beets: