Wednesday, April 24, 2019

Breaking News

   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||

मनोहर पर्रिकर की तबीयत एक बार फिर बिगड़ी, एयरलिफ्ट कर लाए जाएंगे दिल्ली

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मनोहर पर्रिकर की तबीयत एक बार फिर बिगड़ी, एयरलिफ्ट कर लाए जाएंगे दिल्ली

नई दिल्ली। गोआ के मुख्यमंत्री और भाजपा नेता मनोहर पर्रिकर की तबीयत एक बा फिर से बिगड़ गई है। फिलहाल इलाज के लिए उन्हें एयरलिफ्ट कर दिल्ली लाया जा रहा है जहां एम्स में उन्हें भर्ती कराया जाएगा। उम्मीद यह भी जताई जा रही है कि वे एक बार फिर से इलाज के लिए अमेरिका जा सकते हैं। अब इस बात की आशंका जताई जा रही है कि वे मुख्यमंत्री की कुर्सी भी किसी दूसरे नेता को सौंप सकते हैं। खबरों के अनुसार गोआ में भाजपा सरकार की सहयोगी महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के रामकृष्ण सुदीन धवलीकर को अस्थाई तौर पर सरकार चलाने की जिम्मेदारी दी जा सकती है।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को अग्नाशय की बीमारी है और वे इसी महीने 6 तारीख को अमेरिका से इलाज कराकर वापस आए हैं। जानकारी यह भी मिली है कि मुख्यमंत्री पर्रिकर ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भी मुलाकात कर सीएम की कुर्सी किसी अन्य नेता को सौंपने की बात की है।  

ये भी पढ़ें- विधानसभा चुनावों के दौरान होने वाले संदिग्ध लेन-देन पर चुनाव आयोग सख्त, बैंकों को देनी होगी जानकारी


यहां बता दें कि प्रधानमंत्री और भाजपाध्यक्ष दोनों ही लगातार पर्रिकर के संपर्क में हैं। बता दें कि अचानक तबीयत बिगड़ने की वजह से गुरुवार की शाम को ही उन्हें कैंडोलिम के एक स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अब ऐसी खबरें आ रहीं हैं कि उन्हें एयरलिफ्ट कर दिल्ली लाया जाएगा और एम्स में उनका इलाज किया जाएगा। इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि बीमारी से परेशान पर्रिकर की जगह महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के रामकृष्ण सुदीन धवलीकर को अस्थाई तौर पर सरकार चलाने की जिम्मेदारी दी जा सकती है। पार्टी विजय पुराणिक को पर्यवेक्षक बनाकर भेज रही है।

 

Todays Beets: