Thursday, November 23, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

GST council ने उपभोक्ताओं की जरूरत को देखते हुए 40 प्रोडक्ट्स पर घटाया टैक्स

अंग्वाल न्यूज डेस्क
GST council ने उपभोक्ताओं की जरूरत को देखते हुए 40 प्रोडक्ट्स पर घटाया टैक्स

नई दिल्ली । जीएसटी यानी गुड्स सर्विस टैक्स को लेकर अभी भी उपभोक्ताओं से लेकर दुकानदारों और उद्योगपतियों के पास कई अनसुलझे सवाल हैं। जनता भी जीएसटी के गणित को अभी तक समझ नहीं पा रही है। इस बीच जीएसटी काउंसिल ने उपभाक्ताओं की जरूरतों को देखते हुए करीब 40 प्रोडक्ट्स के टैक्स रेट घटा दिए हैं। हैदराबाद में हुई जीएसटी काउंसिल की 21वीं बैठक में यह निर्णय लिया गया है। काउंसिल ने फैसला लिया है कि अब बिना ब्रांड वाले फूड आइटम्‍स पर GST नहीं लगाया जाएगा। इसी क्रम में अब ब्रांडेड फूड प्रोडक्‍ट्स को 5 प्रतिश वाले GST स्‍लैब में रखा गया है। इतना ही नहीं रविवार को हुई जीएसटी काउंसिल की बैठक के बाद ऐसे 40 प्रोडक्ट की एक सूची जीएसटी काउंसिल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर जारी की है। 


जीएसटी काउंसिल ने उपभोक्ताओं की जरुरतों के मद्देनजर एक बार फिर हैदराबाद में एक अहम बैठक की है, जिसमें करीब 40 प्रोडक्ट्स की एक लिस्ट जारी की गई है, जिनके टैक्स स्लैब बदल दिए गए हैं। इस क्रम में काउंसिल ने प्‍लास्टिक रेनकोट पर 28 फीसदी GST रेट को घटाकर 18 फीसदी कर दिया है। वहीं साड़ी के फाल पर जीएसटी रेट 12 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी करने की सिफारिश की गई है। हालांकि इस बैठक में कारों पर सेस बढ़ाने को मंजूरी दे दी है, जिसके बाद कारों के दाम बढ़ेंगे। असल में काउंसिल ने लग्जरी कारों पर सेस 5 फीसदी और एसयूवी पर 7 फीसदी की बढ़ोत्तरी की है। वहीं मिड सेगमेंट की कारों पर सेस 2 फीसदी बढ़ाया है, जबकि छोटी कारों पर सेस 2 फीसदी ही रहेगा।

Todays Beets: