Saturday, June 23, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

मुख्य सचिव मारपीट मामले में ‘आप’ को राहत, कोर्ट ने अमानतुल्ला को जमानत पर किया रिहा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुख्य सचिव मारपीट मामले में ‘आप’ को राहत, कोर्ट ने अमानतुल्ला को जमानत पर किया रिहा

नई दिल्ली। मुख्य सचिव से मारपीट मामले में आम आदमी पार्टी को थोड़ी राहत मिली है। आरोपी विधायक अमानतुल्ला खान को सोमवार को हाईकोर्ट से जमानत मिल गई है। हाईकोर्ट ने दूसरे विधायक प्रकाश जारवाल का उदाहरण देते हुए कहा कि कुछ शर्तों के साथ जब से जमानत दी गई है तो अमानतुल्ला खान को भी सशर्त जमानत दी जा सकती है। बता दें कि जस्टिस मुक्ता गुप्ता ने आम आदमी पार्टी विधायक की ओर से दाखिल जमानत की अर्जी स्वीकार करते हुए यह आदेश दिया है। 

 

गौरतलब है कि मुख्य सचिव अंशु प्रकाश से मारपीट के आरोप में दिल्ली पुलिस ने अमानतुल्ला खान को 21 फरवरी को गिरफ्तार किया था तब से वह न्यायिक हिरासत के तहत जेल में है। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने खान की जमानत अर्जी का विरोध करते हुए कहा कि उनके खिलाफ 12 आपराधिक मुकदमें दर्ज हैं। कोर्ट ने इनमें से 3 मामलों में खान को आरोपमुक्त कर दिया है। 


ये भी पढ़ें - सोलर प्लांट का उद्घाटन कर वापस वाराणसी पहुंचे मोदी-मैक्रों, गंगा में करेंगे नौका विहार

यहां बता दें कि मुख्य सचिव के साथ मारपीट मामले में फंसे दूसरे विधायक प्रकाश जारवाल को भी अदालत ने 50 हजार रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दिया था। इससे पहले निचली अदालत ने दोनों विधायकों को जमानत देने से इंकार कर दिया था। इसके बाद उन्होंने हाईकोर्ट में अपील दाखिल की थी।

Todays Beets: