Thursday, July 19, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

फ्रांस को पछाड़ छठी बड़ी अर्थव्यवस्था बना भारत, सुधारों से ग्रोथ इंजन में आई तेजी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
फ्रांस को पछाड़ छठी बड़ी अर्थव्यवस्था बना भारत, सुधारों से ग्रोथ इंजन में आई तेजी

 नई दिल्ली। मोदी सरकार के उठाए गए कदमों का असर दिखने लगा है भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बन गया है। वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट भी सरकार के प्रयासों पर मुहर लगा रही है। वर्ल्ड बैंक के अनुसार भारत दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। फ्रांस को पछाड़ कर भारत ने यह स्थान प्राप्त किया है। भारत की जीडीपी पिछले साल के आखिर में 2़.597 ट्रिलियन डाॅलर रही जबकि इसी अवधि में फ्रांस की जीडीपी 2.582 ट्रिलियन डाॅलर रही।  

2017 से भारत की अर्थव्यवस्था मजबूत होनी शुरू हुई। फिलहाल भारत की आबादी 134 करोड़ है। वहीं फ्रांस की आबादी 6.7 करोड़ है। वर्ल्ड बैंक का कहना है कि फ्रांस की प्रति व्यक्ति जीडीपी भारत की तुलना में 20 फीसदी अधिक है। वर्ल्ड बैंक के ग्लोबल इकोनोमिक्स प्राॅस्पेक्टस के रिपोर्ट के अनुसार नोटबंदी के बाद भारत की अर्थव्यवस्था थम गई थी, जीएसटी से भी इसके उड़ान को ब्रेक लगा। कुछ समय से भारतीय अर्थव्यवस्था मजबूत होनी शुरू हुई है। वैसे देखा जाए तो एक दशक में भारत की अर्थव्यवस्था दोगुनी हो गई है। ऐसी संभावना जताई जा रही है कि चीन की रफ्तार सुस्त पड़ सकती है और भारत एशिया की बड़ी ताकत बन जाएगा। भारत 2032 तक दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है।


अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोश का कहना है कि इस साल भारत की ग्रोथ 7.4 फीसदी रह सकती है। कर सुधार के चलते 2019 में विकास दर 7.8 फीसदी रहने की संभावना है। वैसे दुनिया का औसत विकास दर 3.9 रहने अनुमान जताया गया है। दरअसल भारत में सुधार के कई कदम उठाए जा रहे हैं और राजनीतिक स्थिरता है। ऐसे में ग्रोथ इंजन में तेजी देखने को मिल रही है ।  

Todays Beets: