Monday, September 24, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

फ्रांस को पछाड़ छठी बड़ी अर्थव्यवस्था बना भारत, सुधारों से ग्रोथ इंजन में आई तेजी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
फ्रांस को पछाड़ छठी बड़ी अर्थव्यवस्था बना भारत, सुधारों से ग्रोथ इंजन में आई तेजी

 नई दिल्ली। मोदी सरकार के उठाए गए कदमों का असर दिखने लगा है भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बन गया है। वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट भी सरकार के प्रयासों पर मुहर लगा रही है। वर्ल्ड बैंक के अनुसार भारत दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। फ्रांस को पछाड़ कर भारत ने यह स्थान प्राप्त किया है। भारत की जीडीपी पिछले साल के आखिर में 2़.597 ट्रिलियन डाॅलर रही जबकि इसी अवधि में फ्रांस की जीडीपी 2.582 ट्रिलियन डाॅलर रही।  

2017 से भारत की अर्थव्यवस्था मजबूत होनी शुरू हुई। फिलहाल भारत की आबादी 134 करोड़ है। वहीं फ्रांस की आबादी 6.7 करोड़ है। वर्ल्ड बैंक का कहना है कि फ्रांस की प्रति व्यक्ति जीडीपी भारत की तुलना में 20 फीसदी अधिक है। वर्ल्ड बैंक के ग्लोबल इकोनोमिक्स प्राॅस्पेक्टस के रिपोर्ट के अनुसार नोटबंदी के बाद भारत की अर्थव्यवस्था थम गई थी, जीएसटी से भी इसके उड़ान को ब्रेक लगा। कुछ समय से भारतीय अर्थव्यवस्था मजबूत होनी शुरू हुई है। वैसे देखा जाए तो एक दशक में भारत की अर्थव्यवस्था दोगुनी हो गई है। ऐसी संभावना जताई जा रही है कि चीन की रफ्तार सुस्त पड़ सकती है और भारत एशिया की बड़ी ताकत बन जाएगा। भारत 2032 तक दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है।


अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोश का कहना है कि इस साल भारत की ग्रोथ 7.4 फीसदी रह सकती है। कर सुधार के चलते 2019 में विकास दर 7.8 फीसदी रहने की संभावना है। वैसे दुनिया का औसत विकास दर 3.9 रहने अनुमान जताया गया है। दरअसल भारत में सुधार के कई कदम उठाए जा रहे हैं और राजनीतिक स्थिरता है। ऐसे में ग्रोथ इंजन में तेजी देखने को मिल रही है ।  

Todays Beets: