Wednesday, June 20, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

पहले चरण में चीन को पछाड़ भारतीय टैंक दूसरे चरण में अंतरराष्ट्रीय सैन्य गेम्स प्रतियोगिता से हुआ बाहर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पहले चरण में चीन को पछाड़ भारतीय टैंक दूसरे चरण में अंतरराष्ट्रीय सैन्य गेम्स प्रतियोगिता से हुआ बाहर

मॉस्को।

रूस में चल रहे अंतरराष्ट्रीय सैन्य गेम्स टैंक बैथलॉन 2017 से भारत बाहर हो गया है। भारत ने इन खेलों के पहले चरण में शानदार प्रदर्शन करते हुए चीन को पछाड़ दिया था, लेकिन दूसरे चरण में भारतीय टैकों में तकनीकी खराबी आने के बाद भारत को अयोग्य घोषित कर दिया गया। भारत इन खेलों में दो T-90 टैंक के साथ शामिल हुआ था। बता दें कि रूस में 19 देशों के बीच अंतराष्ट्रीय सैन्य खेल चल रहे हैं।

ये भी पढ़ें— उत्तराखंड, सिक्किम और अरुणाचल बॉर्डर पर जवानों की संख्या बढ़ाई, 45 हजार जवान हर स्थिति से निप...

खबरों के अनुसार, भारत ने इन खेलों के लिए दो T-90 टैंक, एक प्रमुख और एक रिजर्व में रखा था। हालांकि रेस के दौरान दोनों ही टैंकों में खराबी आ गई, जिसके बाद भारत को अयोग्य घोषित कर बाहर कर दिया गया। हालांकि इस प्रतिस्पर्धा के शुरुआती चरणों में भारत  से भीष्म टैंक ने हिस्सा लिया था। इस चरण में भीष्म ने उम्दा प्रदर्शन करते हुए सभी टैंकों को चित कर दिया। इसके बाद भारत को जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा था। ऐसे में भारतीय आर्मी के लिए इस प्रतियोगिता का अंत निराशाजनक रहा है। अब इस प्रतिस्पर्धा की फाइनल रेस के रूस, बेलारूस, कजाकिस्तान और चीन आगे बढ़ गए हैं।


ये भी पढ़ें— ऑक्सीजन की कमी से 33 नहीं पिछले 6 दिनों में 63 बच्चों की हुई मौत, अस्पताल-प्रशासन जिम्मेदारी ...

19 टीमें ले रही हिस्सा

इन खेलों में कुल 19 टीम हिस्सा लिया था, जिसमें से टॉप 4 के बीच अब फाइनल के लिए मुकाबला है। हिस्सा ले रही हर टीम के अंदर 21 कर्मी होते हैं। इसमें टीम के मेंबर के अलावा एक कोच और तकनीकी दिक्कतों से निपटने के लिए टीम होती है।

 

Todays Beets: