Monday, December 11, 2017

Breaking News

   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद     ||   अश्विन ने लगाया विकेटों का सबसे तेज 'तिहरा शतक', लिली को छोड़ा पीछे     ||   पूरा हुआ सपना चौधरी का 'सपना', बेघर होने के साथ बॉलीवुड से मिला बड़ा ऑफर    ||   PAK सरकार ने शर्तें मानीं, प्रदर्शन खत्म करने कानून मंत्री को देना पड़ा इस्तीफा    ||   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||

पहले चरण में चीन को पछाड़ भारतीय टैंक दूसरे चरण में अंतरराष्ट्रीय सैन्य गेम्स प्रतियोगिता से हुआ बाहर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पहले चरण में चीन को पछाड़ भारतीय टैंक दूसरे चरण में अंतरराष्ट्रीय सैन्य गेम्स प्रतियोगिता से हुआ बाहर

मॉस्को।

रूस में चल रहे अंतरराष्ट्रीय सैन्य गेम्स टैंक बैथलॉन 2017 से भारत बाहर हो गया है। भारत ने इन खेलों के पहले चरण में शानदार प्रदर्शन करते हुए चीन को पछाड़ दिया था, लेकिन दूसरे चरण में भारतीय टैकों में तकनीकी खराबी आने के बाद भारत को अयोग्य घोषित कर दिया गया। भारत इन खेलों में दो T-90 टैंक के साथ शामिल हुआ था। बता दें कि रूस में 19 देशों के बीच अंतराष्ट्रीय सैन्य खेल चल रहे हैं।

ये भी पढ़ें— उत्तराखंड, सिक्किम और अरुणाचल बॉर्डर पर जवानों की संख्या बढ़ाई, 45 हजार जवान हर स्थिति से निप...

खबरों के अनुसार, भारत ने इन खेलों के लिए दो T-90 टैंक, एक प्रमुख और एक रिजर्व में रखा था। हालांकि रेस के दौरान दोनों ही टैंकों में खराबी आ गई, जिसके बाद भारत को अयोग्य घोषित कर बाहर कर दिया गया। हालांकि इस प्रतिस्पर्धा के शुरुआती चरणों में भारत  से भीष्म टैंक ने हिस्सा लिया था। इस चरण में भीष्म ने उम्दा प्रदर्शन करते हुए सभी टैंकों को चित कर दिया। इसके बाद भारत को जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा था। ऐसे में भारतीय आर्मी के लिए इस प्रतियोगिता का अंत निराशाजनक रहा है। अब इस प्रतिस्पर्धा की फाइनल रेस के रूस, बेलारूस, कजाकिस्तान और चीन आगे बढ़ गए हैं।


ये भी पढ़ें— ऑक्सीजन की कमी से 33 नहीं पिछले 6 दिनों में 63 बच्चों की हुई मौत, अस्पताल-प्रशासन जिम्मेदारी ...

19 टीमें ले रही हिस्सा

इन खेलों में कुल 19 टीम हिस्सा लिया था, जिसमें से टॉप 4 के बीच अब फाइनल के लिए मुकाबला है। हिस्सा ले रही हर टीम के अंदर 21 कर्मी होते हैं। इसमें टीम के मेंबर के अलावा एक कोच और तकनीकी दिक्कतों से निपटने के लिए टीम होती है।

 

Todays Beets: