Friday, January 19, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

भारत की इस्लामिक देशों को हिदायत, कश्मीर मामले में किसी बाहरी को दखल देने का हक नहीं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भारत की इस्लामिक देशों को हिदायत, कश्मीर मामले में किसी बाहरी को दखल देने का हक नहीं

न्यूयॉर्क । अंतरराष्ट्रीय समुदाय में जम्मू-कश्मीर को लेकर अमूमन हल्ला करने वाले पाकिस्तान को यूएन में भारत ने मुंह तोड़ जवाब दिया है। असल में मुस्लिम देशों के संगठन 'ऑर्गनाइजेशन ऑफ द इस्लामिक कॉऑपरेशन' की तरफ से पाकिस्तान ने भारत पर जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकार के हनन और कश्मीरियों के आत्मनिर्णय के अधिकार को नकारने का आरोप लगाया था। इस पर भारत ने इन आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए साफ कर दिया कि OIC को भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप का कोई हक नहीं है।

UN में भारत की ओर से दिए गए जवाब में इंडियन परमानेंट मिशन के पहले सचिव डॉक्टर सुमित सेठ ने कहा, 'भारत को अफसोस है कि OIC ने अपने बयान में भारत के अभिन्न और अविभाज्य राज्य जम्मू-कश्मीर से जुड़े गलत और भ्रामक तथ्य शामिल किए हैं, अध्यक्ष जी, मैं इस मंच का इस्तेमाल भारत के जवाब देने के अधिकार के तहत कर रहा हूं। यह जवाब पाकिस्तान के उस बयान के बाद दिया जा रहा है, जो उसने OIC की तरफ से दिया था। भारत ऐसे बयान को पूरी तरह से खारिज करता है। OIC को भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने का कोई अधिकार नहीं है। हम OIC को सलाह देते हैं कि वह भविष्य में इस तरह की बयानबाजी से बचे।'


बता दें कि OIC 57 देशों का संगठन है जो दुनिया में मुस्लिमों की आवाज बनने के लिए इकट्ठे हुए हैं। OIC की तरफ से पाकिस्तान ने भारत पर जम्मू-कश्मीर राज्य में मानवाधिकार के हनन और कश्मीरियों के आत्मनिर्णय के अधिकार को नकारने का आरोप लगाया था।

Todays Beets: