Sunday, March 24, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

उत्तराखंड में महिला किसानों की मदद करने वाली उद्यमी की गूंज यूएन में भी, महासभाध्यक्ष ने की प्रशंसा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड में महिला किसानों की मदद करने वाली उद्यमी की गूंज यूएन में भी, महासभाध्यक्ष ने की प्रशंसा

नई दिल्ली। उत्तराखंड के रानीखेत और अल्मोड़ा में महिला किसानों की मदद करने वाली महिला उद्यमी सुनीता कश्यप की धमक संयुक्त राष्ट्र संघ महासभा में भी सुनाई दे रही है। संयुक्त राष्ट्र संघ महासभा अध्यक्ष मिरास्लोव लाजेक ने लैंगिक समानता और वैश्विक संगठन को संबोधित करते हुए कहा कि महिला विचारों को आगे ले जाने में सुनीता कश्यप का काफी योगदान रहा है। मिरास्लोव लाजेक ने कहा कि सुनीता को नए और आगे ले जाने वाली विचारों के लिए जाना जाता है। 

ये भी पढ़ें - गीतांजलि समूह के मेहुल चोकसी को हो सकती है उम्रकैद, सीबीआई ने धारा 409 में दर्ज किया मुकदमा

गौरतलब है कि यूएन की वेबसाइट पर सुनीता की प्रोफाइल के अनुसार वह उमंग उत्पादक कंपनी (उमंग) की संस्थापक है। यह संगठन उत्तराखंड के अल्मोड़ा और रानीखेत में ग्रामीण महिलाओं द्वारा संचालित होता है। इसके जरिए किसानों के स्थानीय उत्पादों को एक बाजार मुहैया कराने का काम किया जाता  है।


 

यहां आपको बता दें कि उमंग संस्था के जरिए किसान स्थानीय उत्पाद जैम,जैली और अन्य पदार्थों को बेचने का काम करती है।  इसके अतिरिक्त उमंग अपने सदस्यों को लघु ऋण भी उपलब्ध कराती  है। इस ऋण का उपयोग परिवार के सदस्यों की पढ़ाई, पशुओं की देखभाल और अन्य घरेलू कार्यों के लिए किया जाता है।  

Todays Beets: