Friday, May 25, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

ब्रिटेन में भारतीय मूल के डॉक्टर ने किया शर्मसार, डॉक्टर पर लगा 118 लोगों के यौन उत्पीड़न का आरोप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
ब्रिटेन में भारतीय मूल के डॉक्टर ने किया शर्मसार, डॉक्टर पर लगा 118 लोगों के यौन उत्पीड़न का आरोप

लंदन।

पूरी दुनिया में जहां एक ओर भारतीय अपना परचम लहरा रहे हैं और अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहे हैं, वहीं भारतीय मूल के एक डॉक्टर ने ब्रिटेन में देश को शर्मसार करने वाला कारनामा किया है। स्कॉटलैंड यार्ड ने पूर्वी लंदन में भारतीय मूल के एक 47 वर्षीय चिकित्सक मनीष शाह पर 118 यौन अपराधों को अंजाम देने का आरोप लगाया है।

ये भी पढ़ें— ब्रिटेन में सबसे कम उम्र के डॉक्टर बने भारतीय मूल के अर्पण दोषी, तोड़ा रिकॉर्ड

सूत्रों ने बताया कि यह मामला पूर्वी लंदन के रोम्फोर्ट का है। भारतीय मूल के आरोपी डॉक्टर पर 118 यौन अपराध के मामले दर्ज किए गए हैं। पुलिस के अनुसार, आरोपी डॉक्टर ने 65 लड़कियों से रेप और 52 से छेड़छाड़ की थी। इसमें 13 साल की एक नाबालिग लड़की के साथ रेप का मामला भी सामने आया है।

ये भी पढ़ें— 95 फीसदी भारतीय को है दांतों की बीमारी,रिपोर्ट  में हुआ खुलासा


मेट्रोपोलिटन पुलिस के अनुसार, शाह फिलहाल जमानत पर है। उसे 31 अगस्त को लंदन के बर्किंगसाइट मजिस्ट्रेटी अदालत में पेश होना है। आरोपी ने सभी वारदातों को साल 2004 से 2013 के बीच अंजाम दिया था। 2013 में उसको गिरफ्तार भी किया गया था। इसके बाद आरोपी को कई बार जमानत पर रिहा कर दिया गया। बीते दिन, कोर्ट ने उसे सभी मामलों में दोषी ठहराया।

ये भी पढ़ें— भारत के बच्चों में तेजी से बढ़ रही हैं ब्रेन ट्यूमर की गंभीर बीमारी

 

 

 

Todays Beets: