Saturday, October 20, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

डोकलाम में चीन की नापाक साजिश, सर्दियां बढ़ते ही 400 टैंट लगे दिखे, इलाके में तैनात किए 1800 जवान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
डोकलाम में चीन की नापाक साजिश, सर्दियां बढ़ते ही 400 टैंट लगे दिखे, इलाके में तैनात किए 1800 जवान

नई दिल्ली । भारत को एक बार फिर चीनी सेना की नापाक हरकतों का सामना करना पड़ रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत-भूटान सीमा पर स्थित डोकलाम के पास एक बार फिर करीब 1800 चीनी सैनिकों का जमावड़ा देखा गया है। इतना ही नहीं चीनी सैनिकों के यहां 110 बंकर देखे गए है। अब माना जा रहा है कि गत अगस्त में डोकलाम विवाद को लेकर चीन ने पीछे हटने के बाद अब सर्दियां आते ही इलाके में फिर से नापाक हरकतें शुरू करते हुए अपने सैनियों को वहां तैनात करना शुरू कर दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, डोकलाम के पास करीब 400 टैंट देखे गए हैं, जिन्में प्रत्येक में कम से कम 4 सैनिकों को ठहराया गया है। यूं तो इस क्षेत्र में पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के जवान स्थाई रूप से रहते हैं, लेकिन इतनी बड़ी तादाद में सैनिकों का जमावड़ा भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के लिए चिंता का सबब बन गया है। 

ये भी पढ़ें- बारामुला में लश्कर के 5 आतंकियों को सेना ने किया ढेर, सर्च आॅपरेशन जारी

400 टैंट लगे हुए हैं, प्रत्येक में 4-5 जवान

बता दें कि गत 28 अगस्त को शुरू हुई डोकलाम विवाद 73 दिनों तक चला था। उस दौरान भारत और चीन के सैनिक इस इलाके में डटे रहे और कोई भी पीछे हटने को तैयार नहीं हुआ था। हालांकि बाद में संयुक्त वार्ता के बाद भारत और चीन दोनों ने ही इलाके से अपने सैनिकों को पीछे हटा लिया था, लेकिन एक बार फिर सर्दियां आते ही चीन ने अपनी नई चाल चलना शुरू कर दिया है। चीनी सैनिकों ने इस इलाके में कड़ाके की ठंड की आड़ में अब अपनी गतिविधियां तेज कर दी है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इलाके में करीब 400 टैंट लगे देखे गए हैं, जिनमें प्रत्येक में 4 से 5 तक चीनी सैनिक ठहरे हुए हैं।  

ये भी पढ़ें- हार्दिक पटेल हो सकते हैं गिरफ्तार, अनुमति नहीं मिलने के बावजूद पूर्वी अहमदाबाद में निकाली बाइक रैली 

हेलिपैड्स-रोड बनाने का काम जारी


इस दौरान सामने आया है कि चीनी सेना डोकलाम इलाके में हेलिपैड्स, रोड और शिविरों को बनाने का काम कर रहे हैं। पिछले दिनों 73 दिनों तक गतिरोध बने रहने के दौरान चीन ने भारत को युद्ध तक की धमकी दे डाली थी लेकिन बाद में अपने कदम पीछे खींच लिए थे, लेकिन एक बार फिर साजिश रचते हुए डोकलाम में गतिविधियां जारी हैं। इलाके में चीनी सैनिकों की इतनी बड़ी संख्या में मौजूदगी, कहीं न कहीं भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के लिए चिंता का विषय है। 

ये भी पढ़ें-  ‘दंगल गर्ल’ से छेड़खानी करने वाला शख्स गिरफ्तार, आज कोर्ट में होगी पेशी

भारत ने फिर दिया कड़ा संदेश

इस सब के बावजूद भारत ने एक बार फिर चीन को दक्षिण की तरफ किसी भी हालत में सड़क का विस्तार नहीं करने देने की बात कही है। भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की सोमवार दोपहर बाद चीनी विदेश मंत्री वांग यी से मुलाकात होनी है। ऐसी संभावना है कि इस दौरान भारतीय विदेश मंत्री डोकलाम में चीनी सेना की गतिविधियों को लेकर अपना विरोध दर्ज करवा सकती हैं।

ये भी पढ़ें- पीएम ने एक बार फिर से मणिशंकर अय्यर को घेरा, कहा- उनके घर पर हुई पाकिस्तान के नेताओं की सीक्रेट मीटिंग

Todays Beets: