Sunday, July 22, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

जदयू ने सोनिया गांधी पर लगाया पार्टी को तोड़ने का आरोप, कहा पार्टी में दरार डालने की कोशिश कर रही हैं कांग्रेस अध्यक्ष

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जदयू ने सोनिया गांधी पर लगाया पार्टी को तोड़ने का आरोप, कहा पार्टी में दरार डालने की कोशिश कर रही हैं कांग्रेस अध्यक्ष

नई दिल्ली।

जनता दल यूनाइटेड (जदयू) ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर जदयू को तोड़ने का प्रयास करने का आरोप लगाया है। जदयू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने कहा कि   विपक्ष की बैठक में जेडीयू को बुलाकर सोनिया गांधी हमारी पार्टी में फूट डालने की कोशिश कर रही हैं। बता दे कि गुजरात राज्यसभा चुनाव में मुश्किल लड़ाई जीतने के बाद कांग्रेस ने विपक्ष को एकजुट करने का प्रयास फिर से शुरू कर दिया है। इस सिलसिले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में 18 विपक्षी दलों की बैठक शुक्रवार को नई दिल्ली में बुलाई गई है।

ये भी पढ़ें— भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस नीति अपनाने वाले नितीश कुमार की नई सरकार के तीन-चौथाई मंत्री दागदार

सूत्रों के अनुसार, दरसअल, इस बैठक के लिए जदयू की जगह कांग्रेस ने जदयू से नाराज चल रहे नेता शरद यादव को ​आमंत्रण भेजा है। कांग्रेस के इस कदम पर जदयू बिफर पड़ा है और त्यागी ने सोनिया गांधी पर पार्टी में फूट डालने की कोशिश करने का आरोप लगा दिया। देखना होगा कि शरद विपक्ष की मीटिंग में पहुंचते हैं कि नहीं।


ये भी पढ़ें— संसद में सोनिया गांधी के हाथ कांपते दिखे...पर जारी रखा संघ पर हमला करना

सूत्रों ने बताया कि विपक्षी नेताओं की बैठक संसद के पुस्तकालय में होगी। इस दौरान उन मुद्दों पर चर्चा होगी, जिनके सहारे केंद्र सरकार को घेरा जा सकता है। संसद का मानसून सत्र खत्म होने के बाद केंद्र के खिलाफ क्या रणनीति हो, इस मुद्दे पर भी चर्चा की जाएगी।

ये भी पढ़ें— शरद यादव ने नई पार्टी बनाने को ​लेकर दिया बयान, ​बयान से विपक्ष खासा हैरान

 

Todays Beets: