Saturday, May 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

‘बागी’ कपिल मिश्रा ने बढ़ाई केजरीवाल की मुश्किलें, सदन में न आने का मुद्दा लेकर पहुंचे हाईकोर्ट

अंग्वाल न्यूज डेस्क
‘बागी’ कपिल मिश्रा ने बढ़ाई केजरीवाल की मुश्किलें, सदन में न आने का मुद्दा लेकर पहुंचे हाईकोर्ट

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का विवादों से नाता छूटने का नाम नहीं ले रहा है। कभी उनके करीबी रहे बागी नेता कपिल मिश्रा एक बार फिर से उनके खिलाफ हाईकोर्ट पहुंच गए हैं। कपिल मिश्रा इस बार दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गैरमौजूदगी को मुद्दा बनाया है। वहीं कोर्ट ने विधायक कपिल मिश्रा को इस विषय को लेकर याचिका दायर करने की अनुमति दे दी है। माना जा रहा है कि कोर्ट इस पर मंगलवार को सुनवाई कर सकता है।

गौरतलब है कि कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाते हुए कहा कि विधानसभा सत्र के दौरान उनकी उपस्थिति 10 फीसदी से भी कम है। उन्होंने अदालत से अनुरोध किया कि वे केजरीवाल को सत्र के दौरान विधानसभा में मौजूद रहने के निर्देश दें साथ ही उन्होंने दिल्ली के उपराज्यपाल और विधानसभा अध्यक्ष से भी इस बात का अनुरोध किया कि वे भी केजरीवाल की उपस्थिति को अनिवार्य करें। 

 

ये भी पढ़ें - शिवराज सरकार की पोल खोलने के चक्कर में खुद फंसे ‘दिग्गी राजा’, बाद में मांगी माफी

यहां बता दें कि कपिल मिश्रा ने केजरीवाल पर आरोप लगाते हुए कहा कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने के नाम पर जनता को धोखा दिया जा रहा है। मिश्रा ने कहा कि जनता ने जिसे चुना वह विधानसभा में आता ही नहीं है, यह दिल्ली के लोगों का अपमान है और उपस्थिति के मानदंडों के आधार पर केजरीवाल का वेतन भी काटा जाना चाहिए। गौर करने वाली बात है कि इससे कपिल मिश्रा ने अपने ट्विटर पर एक फोटो पोस्ट करते हुए लिखा कि ‘गुमशुदा केजरीवाल सदन में आओ’। 

Todays Beets: