Friday, November 16, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

भाजपा में अंदरूनी घमासान तेज, कीर्ति आजाद ने दिया 1 महीने का अल्टीमेटम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भाजपा में अंदरूनी घमासान तेज, कीर्ति आजाद ने दिया 1 महीने का अल्टीमेटम

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी का भले ही देश में ज्यादातर राज्यों में कब्जा होता जा रहा हो लेकिन अंदरूनी कलह भी उभरकर सामने आने लगा है। भाजपा के निलंबित सांसद कीर्ति झा आजाद ने पार्टी को उनके निलंबन पर फैसला लेने के लिए एक महीने का अल्टीमेटम दिया है।  कीर्ति आजाद ने कहा कि केन्द्र में सरकार बने हुए 4 साल हो गए और अगले साल चुनाव है। ऐसे में पार्टी अगर उनके लिए कोई फैसला नहीं लेती है तो वे खुद निर्णय लेंगे। बता दें कि कीर्ति आजाद ने अपनी ही सरकार पर कई आरोप लगाए हैं।

गौरतलब है कि भाजपा सांसद ने कहा कि वे पिछले 26 सालों से पार्टी के लिए काम कर रहे हैं और कभी भी खिलाफ में कोई बयान नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि पार्टी अपने वादे पर खरा नहीं उतर रही है तो उसे आईना दिखाना जरूरी है। आजाद ने कहा कि सिर्फ कांग्रेस को कोसने से अपनी जिम्मेदारी खत्म नहीं हो सकती है। 


ये भी पढ़ें - दिल्ली-एनसीआर को अगले 3 दिनों तक मौसम के बदले मिजाज से नहीं मिलेगी राहत, तेज बारिश के आसार

यहां बता दें कि कीर्ति आजाद ने कहा कि हरियाणा और केन्द्र दोनों जगहों पर भाजपा की सरकार ने इसके बावजूद राॅबर्ट वाड्रा पर कोई कार्रवाई नहीं हुई जबकि भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने पर उनपर फौरन कार्रवाई हो गई। पीएम मोदी पर बड़ा सवाल उठाते हुए कीर्ति आजाद ने कहा कि ‘‘वे मुख्यरूप से कारोबारी हैं और अपना नफा नुकसान ही केवल देखते हैं। पिछले चार साल में देश को कितना नुकसान पहुंचा है इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है।’’ आजाद ने कहा कि अगर वे भाजपा से अलग होते हैं तो किधर जाएंगे ये देखने वाली बात होगी। इसके साथ्ज्ञ ही उन्होंने 15 साल और राजनीति करने का दावा भी किया।

Todays Beets: