Monday, May 21, 2018

Breaking News

   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||   बिहार: शराब और मुर्गे के साथ गश्त करने वाली पुलिस टीम निलंबित     ||

भारत में लगने वाला कुंभ मेला यूनेस्को की विरासत सूची में हुआ शामिल, मिलेगी वैश्विक पहचान 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भारत में लगने वाला कुंभ मेला यूनेस्को की विरासत सूची में हुआ शामिल, मिलेगी वैश्विक पहचान 

नई दिल्ली। भारत में लगने वाले कुंभ मेले को यूनेस्को ने अपनी ‘मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की प्रतिनिधि सूची’ में शामिल किया है। यूनेस्को संगठन ने ट्विटर पर यह जानकारी दी है। बता दें कि संयुक्त राष्ट्र के सांस्कृतिक निकाय की विश्व धरोहर समिति ने दक्षिण कोरिया के जेजू द्वीप पर हुए अपने 12वें सत्र में कुंभ मेला को इस सूची में रखने की मंजूरी दी। यहां गौर करने वाली बात है कि स्पेन की फ्लेमेंको नृत्य से लेकर इंडोनेशिया की बाटिक कला तक 350 से अधिक परंपराएं और कलारूप आदि इस सूची में पहले से शामिल हैं। 

पौराणिक मान्यता

गौरतलब है कि यूनेस्को की सांस्कृतिक विरासत की प्रतिनिधि सूची में तुर्की की तेल कुश्ती और मंगोलिया की ऊंटों के लिए मनाई जाने वाली रस्म को भी इसमें जगह दी गई है। बता दें कि 12 सालों में एक बार लगने वाला महाकुंभ मेला हिन्दुओं के लिए एक खास मौका होता है। ऐसी मान्यता है कि देवासुर संग्राम के दौरान अमृतकलश से अमृत की कुछ बूंदें छलक गई थीं और वे बूंदें पृथ्वी पर प्रयाग (इलाहाबाद), नासिक, उज्जैन और हरिद्वार पर गिरी थीं। अमृत गिरने के कारण यहां हर चार साल पर कुंभ मेला लगता है।

ये भी पढ़ें - घोषणा पत्र जारी न करने पर हार्दिक का भाजपा पर वार, कहा- मेरी सीडी बनाने में बिजी थी, घोषणा पत...


2013 में लगा था पिछला महाकुंभ इलाहाबाद में जो 55 दिन तक चला था 

10 करोड़ लोगों ने इस दौरान गंगा नदी के पवित्र जल में डुबकी लगाई थी

12 हजार पुलिस अधिकारी तैनात थे मेले में व्यवस्था बनाए रखने के लिए

Todays Beets: