Monday, September 24, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

भारी बारिश से सिक्किम में भारी भूस्खलन, 2 इलाकों को जोड़ने वाला पुल टूटा 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भारी बारिश से सिक्किम में भारी भूस्खलन, 2 इलाकों को जोड़ने वाला पुल टूटा 

गंगटोक। उत्तरपूर्वी राज्यों में भी मौसम का कहर जारी है। सिक्किम में लगातार हो रही भारी बारिश से पहाड़ों से भूस्खलन ने लोगों की परेशानियों को काफी इजाफा कर दिया है। भूस्खलन से गंगटोक समेत कई जगहों पर सड़क संपर्क टूट गया। एक वरिष्ठ जिला अधिकारी ने बताया कि उत्तर जिले में द्जोंगु, मंगन, लाचेन और मंगशिला में भूस्खलन हुए। राफोंग खेला में एक पुल बह जाने के बाद मंगन और चुंगथांग को जोड़ने वाली सड़क भी टूट गई। अम्बिथांग झरना उफान पर है जिससे पुलियों और तूंग के समीप नवनिर्मित बैली पुल को भी नुकसान पहुंचा है। द्जोंगु में कई स्थानों पर भूस्खलन से सड़क नेटवर्क भी प्रभावित हुआ है। 

गौरतलब है कि सिक्किम में हो रहे भूस्खलन से करीब 50 मकान पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए हैं। उन मकानों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित जगह पर जाने के निर्देश दिए गए हैं। कई इलाकों को जोड़ने वाली सड़कें भी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त है। प्रशासन के आला अधिकारियों को मौके पर भेजा गया है। लगातार भूस्खलन के चलते स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया गया है। 

ये भी पढ़ें - LIVE - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहाड़गंज के स्कूल में लगाई झाड़ू, देश की जनता से फिर किया...


यहां आपको बता दें कि भूस्खलन के चलते बंद हुए सड़कों को सीमा सड़क संगठन उसे दोबारा बहाल करने के लिए काम कर रहा है। अधिकारी ने बताया कि भूस्खलन से प्रभावित लोगों को नियमों के अनुसार राहत और अनुग्रह राशि दी जाएगी। उत्तर सिक्किम में भारी बारिश के कारण सिंगतम और रांगपो जैसे निचले इलाकों में जलस्तर बढ़ने की आशंका के कारण नागरिक सुरक्षा एजेंसियों, स्वयंसेवकों और जनता को अलर्ट कर दिया गया है।  

 

Todays Beets: