Wednesday, April 24, 2019

Breaking News

   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||

नेपाल के जरिए भारत को परेशान करने की पाकिस्तानी कोशिश, मोरंग में बनाया बेस कैंप!

अंग्वाल न्यूज डेस्क
नेपाल के जरिए भारत को परेशान करने की पाकिस्तानी कोशिश, मोरंग में बनाया बेस कैंप!

नई दिल्ली। पाकिस्तान जम्मू कश्मीर और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सुरक्षाबलों से मुंह की खाने के बाद अब भारत को परेशान करने के लिए पड़ोसी देश नेपाल का सहारा ले रहा है। खबरों के अनुसार पाकिस्तानी आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा ने नेपाल में अपना बेस बना लिया है। बड़ी बात यह है कि इस आतंकी संगठन को पाकिस्तानी दूतावास का साथ मिल रहा है। वहीं दूसरी ओर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई एनजीओ की मदद से आतंकियों की भर्ती कर रहा है। खबरों के अनुसार लश्कर ने नेपाल के मोरंग जिले में आईएसआई की मदद से अपना ठिकाना बना लिया है।

गौरतलब है कि भारतीय सीमा पर पाकिस्तानी आतंकियों को लगातार मुंहतोड़ जवाब मिलने की वजह से अब आतंक के आकाओं ने नया पैंतरा अपनाया है। इसके लिए नेपाल के मोरंग जिले में अब आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा अपना ठिकाना बना रहा है। नेपाल में स्थित पाकिस्तानी दूतावास भी इसमें मदद कर रहा है। लश्कर के द्वारा एक एनजीओ का गठन कर युवाओं को आतंकी बनने के लिए मजबूर कर रहा है। 


ये भी पढ़ें - हरदोई में हुआ दर्दनाक रेल हादसा, ट्रैक की मरम्मत कर रहे 4 गैंगमैन की ट्रेन से कटकर मौत

यहां बता दें कि लश्कर कुछ नेपाली युवकों को भारत के खिलाफ भड़काकर आतंकी बनाने की कोशिश कर रहा है। ऐसा भी कहा जा रहा है कि लश्कर के द्वारा हरियाणा के युवाओं को भी लुभाने की कोशिश की जा रही है। हालांकि दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग की ओर से कहा गया है कि हरियाणा में टेरर फंडिंग का कोई सबूत नहीं मिला है। 

Todays Beets: