Wednesday, December 13, 2017

Breaking News

   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद     ||   अश्विन ने लगाया विकेटों का सबसे तेज 'तिहरा शतक', लिली को छोड़ा पीछे     ||   पूरा हुआ सपना चौधरी का 'सपना', बेघर होने के साथ बॉलीवुड से मिला बड़ा ऑफर    ||   PAK सरकार ने शर्तें मानीं, प्रदर्शन खत्म करने कानून मंत्री को देना पड़ा इस्तीफा    ||   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||

नरेला में शराब माफिया की दरिंदगी, महिला आयोग की कार्यकर्ता को निर्वस्त्र कर घुमाया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
नरेला में शराब माफिया की दरिंदगी, महिला आयोग की कार्यकर्ता को निर्वस्त्र कर घुमाया

नई दिल्ली। बाहरी दिल्ली के नरेला इलाके में इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। दिल्ली महिला आयोग को मिली सांसी समुदाय द्वारा अवैध शराब की बिक्री की शिकायत मिलने के बाद वहां पुलिस ने छापेमारी कर बड़ी मात्रा में शराब बरामद की थी। पुलिस की कार्रवाई से गुस्साए सांसी समुदाय की महिलाओं ने महिला आयोग की कार्यकर्ता को निशाना बनाया और उसके कपड़े उतारकर पूरे इलाके में घुमाया। महिला आयोग ने पुलिस पर मूक दर्शक बने रहने का आरोप लगाया।

पुलिस ने किया मामला दर्ज

गौरतलब है कि गुरुवार को महिला आयोग की टीम ने नरेला इलाके में एक समुदाय द्वारा अवैध शराब की बिक्री की शिकायत मिलने के बाद वहां छापा मारा और बड़े पैमाने पर शराब को पकड़ने में पुलिस की मदद की। इसके बाद कथित सांसी समुदाय की महिला ने आयोग की कार्यकर्ता पर अपना गुस्सा उतारा और उसके कपड़े उतारकर उसे पूरे इलाके में घुमाया और उसका वीडियो भी बनाया। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनके सामने घटना होने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की गई। मामला बढ़ने के बाद इस घटना में नरेला थाना पुलिस ने मारपीट, छेड़छाड़, धमकी देने आदि की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।

ये भी पढ़ें - शादी के बाद महिला को धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता- सुप्रीम कोर्ट


कार्यकर्ता पर नाराज आरोपी का हमला

आपको बता दें कि महिला आयोग की टीम ने नरेला के जेजे काॅलोनी स्थित आशा नामक महिला के घर में देर शाम छापेमारी की थी। घर से 312 क्वार्टर और 12 बीयर की बोतलें बरामद हुईं। इस बाबत एक्साइज एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया। छापेमारी के समय आशा और उसका पति राकेश घर पर मौजूद नहीं थे घर पर सिर्फ उनकी बेटी श्वेता मौजूद थी। रात का वक्त होने की वजह से पुलिस ने युवती को गिरफ्तार नहीं किया और नोटिस देकर वापस आ गई।  बता दें कि छापेमारी के दौरान इलाके में नशा मुक्ति पंचायत चलाने वाली दो महिलाएं भी मौजूद थीं। यह दोनों महिलाएं थानाध्यक्ष द्वारा चलाई जा रही नशा मुक्ति पंचायत के लिए काम करती हैं। पुलिस को सहयोग देने की वजह से आरोपी और उसका परिवार एवं रिश्तेदार नाराज हो गए थे।

पहले भी हुई गिरफ्तार

यहां बता दें कि गुरुवार को आरोपियों ने उस पंचायत कार्यकर्ता पर हमला बोल दिया और महिला की पिटाई करने के साथ ही उनके कपड़े तक फाड़कर पूरे इलाके में घुमाया।  पुलिस की सूचना के अनुसार आशा के पति राकेश पर पहले से ही 21 आपराधिक और आशा पर 9 मामले दर्ज हैं। आशा को पहले भी पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

Todays Beets: