Tuesday, October 16, 2018

Breaking News

   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||   सुप्रीम कोर्ट ने कठुआ मामले में सीबीआई जांच की अर्जी को खारिज किया    ||   मध्यप्रदेश सरकार ने पांच नए सूचना आयुक्त चुने, राज्यपाल को भेजी सिफारिश     ||   बिहार: ASI संग शराब बेच रहा था थानेदार, अरेस्ट     ||

वाराणसी में PM मोदी को जितवाने वालों को गुजरात में निशाना बनाकर पीटा जा रहा है -  मायावती

अंग्वाल न्यूज डेस्क
वाराणसी में PM मोदी को जितवाने वालों को गुजरात में निशाना बनाकर पीटा जा रहा है -  मायावती

लखनऊ/ नई दिल्ली। गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हुए हमले के बाद अब बड़ी संख्या में लोगों का पलायन जारी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब तक करीब 20 हजार से ज्यादा लोग पिछले 32 घटों में गुजरात के विभिन्न जिलों से यूपी-बिहार में अपने घरों की ओर आ रहे हैं। इस पूरे घटनाक्रम के बीच बसपा सुप्रीमो मायावती ने मंगलवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। मायावती ने कहा कि जिन लोगों ने वाराणसी में मोदी को जिताया, उनके लिए वोट डाले, अब उन्‍हीं लोगों को गुजरात में निशाना बनाया जा रहा है। यह एक दुखद घटनाक्रम है। ' इस दौरान यूपी की पूर्व मुख्यत्री ने कहा कि गुजरात में भाजपा सरकार को चाहिए कि वह वहां मौजूद उत्तर भारतीयों की सुरक्षा के लिए आवश्यक कदम उठाए और दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करे। 

सीएम रूपाणी ने लोगों से की अपील

जहां एक ओर गुजरात में उत्तर भारतीयों को निशाना बनाया जा रहा है, वहीं बड़ी संख्या में पलायन शुरू हो गया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 20 हजार से ज्यादा उत्तर भारतीय अपने मूल राज्यों की ओर पलायन कर रहे हैं। इन लोगों का कहना है कि उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई है, जिसके चलते वह वापस अपने घरों की ओर जा रहे हैं। हिंदी भाषी प्रवासियों पर हमले के अधिकांश मामले कामगारों के साथ सामने आए हैं। फैक्टरी में काम करने वाले कई मजदूरों ने यूपी बिहार में अपने घरों की ओर रुख किया है। इस सब के बीच गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने लोगों से हिंसा में शामिल नहीं होने की अपील की। 

आपकी 15 साल पुरानी डीजल कारों के खिलाफ अभियान शुरू, परिवहन विभाग-MCD की संयुक्त टीमें करेंगी आपकी पुरानी कारों को जब्त

431 लोग गिरफ्तार , 56 एफआईआर

इस सब के बीच गुजरात में उत्तर भारतीय विकास परिषद के अध्यक्ष महेशसिंह कुशवाह ने दावा किया कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार के करीब 20 हजार लोग गुजराज से बाहर चले गए हैं। हालांकि इस मुद्दे पर राज्य सरकार ने प्रवासियों को सुरक्षा का आश्वासन देते हुए कहा कि हमलों के संबंध में 431 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 56 प्राथमिकियां दर्ज की गई हैं। सीएम रूपाणी ने दावा किया कि पिछले 48 घंटों में कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है।

मीसा भारती का बड़ा बयान, कहा- हां है मेरे दोनों भाइयों के बीच मनमुटाव, तर्क दिया -हाथ ही सभी अंगुलियां बराबर नहीं होती

स्थिति नियंत्रण में - सरकार


इस पूरे घटनाक्रम पर मंगलवार को सरकार ने कहा कि पुलिस ने स्थिति पर काबू पा लिया है। पिछले 48 घंटों में कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है । सरकार कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं और परेशानी की स्थिति में लोग पुलिस को बुला सकते हैं। पुलिस ऐसे लोगों को सुरक्षा मुहैया करवाएगी। 

योगी-नीतीश ने की रुपाणी से बात 

इसी क्रम में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ ही केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने गुजरात के सीएम रूपाणी से बात की। इस दौरान इन सभी नेताओं ने उत्तर भारतीयों पर हुए हमले को लेकर चिंता जताई है। 

गठबंधन नहीं होने के बाद मध्यप्रदेश में अखिलेश का नया दांव, कहा-कांग्रेस नेता आएं और टिकट ले जाएं

गुजरात विकास का मॉडल

इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गुजरात एक शान्तप्रिय प्रदेश है एवं देश के विकास का मॉडल भी है। जो लोग विकास नहीं चाहते, वे समाज के सौहार्द को अफवाह फैलाकर बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं।

लोकसभा चुनाव से पहले ‘बाबा’ का भाजपा को झटका, किसी पार्टी को समर्थन नहीं देने का किया ऐलान 

Todays Beets: