Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

यूपी को भी मिलेगा ‘डबल इंजन’ वाली सरकार का फायदा, अब नोएडा के सेक्टर 62 तक दौड़ेगी मेट्रो 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूपी को भी मिलेगा ‘डबल इंजन’ वाली सरकार का फायदा, अब नोएडा के सेक्टर 62 तक दौड़ेगी मेट्रो 

नई दिल्ली। उत्तरप्रदेश को भी ‘डबल इंजन’ वाली सरकार का फायदा मिलने लगा है। इसके तहत अब केन्द्र सरकार मेट्रो का और विस्तार करने जा रही है। केन्द्र सरकार की योजना द्वारका से नोएडा सिटी सेंटर तक चलने वाली मेट्रो को नोएडा के सेक्टर 62 तक किए जाने की है। बताया जा रहा है कि 6.675 किलोमीटर लंबे इस विस्तार पर करीब 1 हजार 967 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। ऐसे में कामकाज और शिक्षा हासिल करने के लिए नोएडा जाने वाले लोगों को काफी राहत मिलेगी।

गौरतलब है कि मेट्रो के विस्तार के लिए केन्द्र की तरफ से 340 करोड़ रुपये का अनुदान देगी। इसके साथ ही प्रधानमंत्री सिंचाई कृषि योजना के तहत सूक्ष्म सिंचाई कोष के लिए नाबार्ड के जरिए 5 हजार करोड़ रुपये का फंड निर्धारित कर दिया है। नाबार्ड इस राशि को मांग के अनुसार राज्यों को ऋण के रूप में देगा, जिसका फायदा किसानों को मिलेगा। 


ये भी पढ़ें - भाजपा में अंदरूनी घमासान तेज, कीर्ति आजाद ने दिया 1 महीने का अल्टीमेटम

यहां बता दें कि नोएडा के सेक्टर 62 तक मेट्रो विस्तार को कैबिनेट की मंजूरी मिलने से दिल्ली-नोएडा के बीच रोजाना सफर करने वाले बड़ी संख्या में लोगों को राहत मिल जाएगी। इस मेट्रो का विस्तार केंद्र सरकार की विशेष उद्देश्य एजेंसी, दिल्ली रेल मेट्रो कारपोरेशन और एनसीआर की ओर से मिलकर किया जाएगा।  इस काम को अंजाम तक पहुंचाने के लिए करीब 800 कर्मचारियों को लगाया गया है।  साथ ही डीएमआरसी ने परियोजना के रखरखाव और इसके क्रियान्वयन के लिए 200 कर्मियों की भर्ती की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है।  

Todays Beets: