Sunday, July 22, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

यूपी को भी मिलेगा ‘डबल इंजन’ वाली सरकार का फायदा, अब नोएडा के सेक्टर 62 तक दौड़ेगी मेट्रो 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूपी को भी मिलेगा ‘डबल इंजन’ वाली सरकार का फायदा, अब नोएडा के सेक्टर 62 तक दौड़ेगी मेट्रो 

नई दिल्ली। उत्तरप्रदेश को भी ‘डबल इंजन’ वाली सरकार का फायदा मिलने लगा है। इसके तहत अब केन्द्र सरकार मेट्रो का और विस्तार करने जा रही है। केन्द्र सरकार की योजना द्वारका से नोएडा सिटी सेंटर तक चलने वाली मेट्रो को नोएडा के सेक्टर 62 तक किए जाने की है। बताया जा रहा है कि 6.675 किलोमीटर लंबे इस विस्तार पर करीब 1 हजार 967 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। ऐसे में कामकाज और शिक्षा हासिल करने के लिए नोएडा जाने वाले लोगों को काफी राहत मिलेगी।

गौरतलब है कि मेट्रो के विस्तार के लिए केन्द्र की तरफ से 340 करोड़ रुपये का अनुदान देगी। इसके साथ ही प्रधानमंत्री सिंचाई कृषि योजना के तहत सूक्ष्म सिंचाई कोष के लिए नाबार्ड के जरिए 5 हजार करोड़ रुपये का फंड निर्धारित कर दिया है। नाबार्ड इस राशि को मांग के अनुसार राज्यों को ऋण के रूप में देगा, जिसका फायदा किसानों को मिलेगा। 


ये भी पढ़ें - भाजपा में अंदरूनी घमासान तेज, कीर्ति आजाद ने दिया 1 महीने का अल्टीमेटम

यहां बता दें कि नोएडा के सेक्टर 62 तक मेट्रो विस्तार को कैबिनेट की मंजूरी मिलने से दिल्ली-नोएडा के बीच रोजाना सफर करने वाले बड़ी संख्या में लोगों को राहत मिल जाएगी। इस मेट्रो का विस्तार केंद्र सरकार की विशेष उद्देश्य एजेंसी, दिल्ली रेल मेट्रो कारपोरेशन और एनसीआर की ओर से मिलकर किया जाएगा।  इस काम को अंजाम तक पहुंचाने के लिए करीब 800 कर्मचारियों को लगाया गया है।  साथ ही डीएमआरसी ने परियोजना के रखरखाव और इसके क्रियान्वयन के लिए 200 कर्मियों की भर्ती की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है।  

Todays Beets: