Thursday, May 24, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

यूपी को भी मिलेगा ‘डबल इंजन’ वाली सरकार का फायदा, अब नोएडा के सेक्टर 62 तक दौड़ेगी मेट्रो 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूपी को भी मिलेगा ‘डबल इंजन’ वाली सरकार का फायदा, अब नोएडा के सेक्टर 62 तक दौड़ेगी मेट्रो 

नई दिल्ली। उत्तरप्रदेश को भी ‘डबल इंजन’ वाली सरकार का फायदा मिलने लगा है। इसके तहत अब केन्द्र सरकार मेट्रो का और विस्तार करने जा रही है। केन्द्र सरकार की योजना द्वारका से नोएडा सिटी सेंटर तक चलने वाली मेट्रो को नोएडा के सेक्टर 62 तक किए जाने की है। बताया जा रहा है कि 6.675 किलोमीटर लंबे इस विस्तार पर करीब 1 हजार 967 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। ऐसे में कामकाज और शिक्षा हासिल करने के लिए नोएडा जाने वाले लोगों को काफी राहत मिलेगी।

गौरतलब है कि मेट्रो के विस्तार के लिए केन्द्र की तरफ से 340 करोड़ रुपये का अनुदान देगी। इसके साथ ही प्रधानमंत्री सिंचाई कृषि योजना के तहत सूक्ष्म सिंचाई कोष के लिए नाबार्ड के जरिए 5 हजार करोड़ रुपये का फंड निर्धारित कर दिया है। नाबार्ड इस राशि को मांग के अनुसार राज्यों को ऋण के रूप में देगा, जिसका फायदा किसानों को मिलेगा। 


ये भी पढ़ें - भाजपा में अंदरूनी घमासान तेज, कीर्ति आजाद ने दिया 1 महीने का अल्टीमेटम

यहां बता दें कि नोएडा के सेक्टर 62 तक मेट्रो विस्तार को कैबिनेट की मंजूरी मिलने से दिल्ली-नोएडा के बीच रोजाना सफर करने वाले बड़ी संख्या में लोगों को राहत मिल जाएगी। इस मेट्रो का विस्तार केंद्र सरकार की विशेष उद्देश्य एजेंसी, दिल्ली रेल मेट्रो कारपोरेशन और एनसीआर की ओर से मिलकर किया जाएगा।  इस काम को अंजाम तक पहुंचाने के लिए करीब 800 कर्मचारियों को लगाया गया है।  साथ ही डीएमआरसी ने परियोजना के रखरखाव और इसके क्रियान्वयन के लिए 200 कर्मियों की भर्ती की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है।  

Todays Beets: