Sunday, December 16, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

केरल के एक स्कूल में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को तिरंगा फहराने से रोका गया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केरल के एक स्कूल में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को तिरंगा फहराने से रोका गया

तिरुवनंतपुरम।

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर केरल के पलक्कर इलाके के एक स्कूल में ध्वजारोहण करने पहुंचे आरएसएस चीफ मोहन भागवत को जिला कलेक्टर ने झंडा फहराने से रोक दिया गया। केरल के पलक्कड़ में एक स्कूल में जिला प्रशासन ने उन्हें तिरंगा फहराने से रोक दिया।

ये भी पढ़ें— स्वाधीनता दिवस पर पीएम मोदी ने स्वच्छ, सुंदर, स्वस्थ भारत बनाने का दिया नारा, कहा आज का नारा भारत छोड़ो नहीं, भारत जोड़ो

कलेक्टर ने स्कूल को एक मेमो जारी कर कहा कि कोई नेता सरकार से सहायता प्राप्त स्कूल में भारतीय ध्वज नहीं फहरा सकता है। जिला  कलेक्टर का कहना है कि ध्वजारोहण या तो स्कूल टीचर फहरा सकता है या फिर चुने हुए  प्रतिनिधि द्वारा ध्वजारोहण किया जा सकता है।


ये भी पढ़ें— 21 हजार डॉलर में नीलाम हुई वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन का लिखा हुआ यह खास पत्र

मोहन भागवत को ध्वजारोहण ना करने देने के फैसले को बीजेपी ने चुनौती दी है। दरअसल मोहन भागवत को आरएसएस के एक कार्यकर्ता द्वारा संचालित करनाकियामम स्कूल में मंगलवार सुबह 9 बजे ध्वजारोहण करना था। इस बीच स्कूल को जिला कलेक्टर की तरफ से सूचित किया गया कि एडिड स्कूल में किसी राजनीतिक पार्टी के पॉलीटिकल लीडर द्वारा ध्वजारोहण कराया जाता है तो ये नियमों का उल्लंघन होगा। जिला प्रशासन ने स्कूल प्रशासन को रात एक बजे नोटिस जारी करते हुए कहा कि सरकारी आदेश का पालन करें।

ये भी पढ़ें— किसी मोलवी के कहने से मस्जिद किसी के हवाले नहीं कर सकते - ओवेशी

Todays Beets: