Monday, August 20, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

केरल के एक स्कूल में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को तिरंगा फहराने से रोका गया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केरल के एक स्कूल में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को तिरंगा फहराने से रोका गया

तिरुवनंतपुरम।

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर केरल के पलक्कर इलाके के एक स्कूल में ध्वजारोहण करने पहुंचे आरएसएस चीफ मोहन भागवत को जिला कलेक्टर ने झंडा फहराने से रोक दिया गया। केरल के पलक्कड़ में एक स्कूल में जिला प्रशासन ने उन्हें तिरंगा फहराने से रोक दिया।

ये भी पढ़ें— स्वाधीनता दिवस पर पीएम मोदी ने स्वच्छ, सुंदर, स्वस्थ भारत बनाने का दिया नारा, कहा आज का नारा भारत छोड़ो नहीं, भारत जोड़ो

कलेक्टर ने स्कूल को एक मेमो जारी कर कहा कि कोई नेता सरकार से सहायता प्राप्त स्कूल में भारतीय ध्वज नहीं फहरा सकता है। जिला  कलेक्टर का कहना है कि ध्वजारोहण या तो स्कूल टीचर फहरा सकता है या फिर चुने हुए  प्रतिनिधि द्वारा ध्वजारोहण किया जा सकता है।


ये भी पढ़ें— 21 हजार डॉलर में नीलाम हुई वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन का लिखा हुआ यह खास पत्र

मोहन भागवत को ध्वजारोहण ना करने देने के फैसले को बीजेपी ने चुनौती दी है। दरअसल मोहन भागवत को आरएसएस के एक कार्यकर्ता द्वारा संचालित करनाकियामम स्कूल में मंगलवार सुबह 9 बजे ध्वजारोहण करना था। इस बीच स्कूल को जिला कलेक्टर की तरफ से सूचित किया गया कि एडिड स्कूल में किसी राजनीतिक पार्टी के पॉलीटिकल लीडर द्वारा ध्वजारोहण कराया जाता है तो ये नियमों का उल्लंघन होगा। जिला प्रशासन ने स्कूल प्रशासन को रात एक बजे नोटिस जारी करते हुए कहा कि सरकारी आदेश का पालन करें।

ये भी पढ़ें— किसी मोलवी के कहने से मस्जिद किसी के हवाले नहीं कर सकते - ओवेशी

Todays Beets: