Tuesday, February 20, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

3 साल 10 महीने 21 दिन बाद जेल से रिहा हुए तलवार दंपति, राजेश-नुपूर पर हमले की आशंका के चलते सुरक्षा बढ़ाई 

अंग्वाल संवाददाता
3 साल 10 महीने 21 दिन बाद जेल से रिहा हुए तलवार दंपति, राजेश-नुपूर पर हमले की आशंका के चलते सुरक्षा बढ़ाई 

गाजियाबाद । देश के बहुचर्चित और सबसे बड़ी मर्डर मिस्ट्री आरुषि-हेमराज हत्याकांड में 3 साल 10 महीने और 21 दिन की सजा काटने के बाद नुपूर और राजेश तलवार सोमवार शाम गाजियाबाद की डासना जेल से रिहा हो गए। यूं तो सीबीआई कोर्ट ने उन्हें इस हत्याकांड में आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी, लेकिन दंपति की याचिका पर सुनवाई करते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने दोनों को सबूतों की कमी के आधार पर इस मामले से बरी कर दिया। हालांकि इससे पहले गाजियाबाद कोर्ट में राजेश तलवार पर हुए जानलेवा हमले को ध्यान में रखते हुए इन दोनों की सुरक्ष व्यवस्था को लेकर भी पुलिस के अधिकारियों ने चर्चा की, जिसके चलते जेल के आस-पास सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई। जेल से बाहर निकलने पर नुपूर तलवार के पिता और राजेश तलवार के भाई ने इस दंपति का स्वागत किया। 

ये भी पढ़ें- रिहाई के बाद भी हर 15 दिन में डासना जेल जाएंगे तलवार दंपति, जानिए जेल प्रशासन ने ऐसा क्या कहा...

यूं काटा जेल में अपना समय

असल में राजेश तलवार ने डासना जेल में 3 साल 10 माह और 21 दिन बतौर सजायाफ्ता कैदी के तौर पर काटे हैं। वहीं विचाराधीन के तौर पर 1 माह 20 दिन जेल में काटे हैं। जबकि नुपुर तलवार ने डासना जेल में 3 साल 6 माह और 22 दिन सजायाफ्ता कैदी के तौर पर काटे हैं, जबकि विचाराधीन के तौर पर 4 माह 26 दिन जेल में काटे हैं। 

ये भी पढ़ें- ओवैसी का पलटवार, कहा- पीएम से कहें लालकिले पर तिरंगा फहराना छोड़ दें, ये भी गद्दारों ने बनवाया था

रिहाई से पहले मेडिकल जांच हुई


सीबीआई कोर्ट से ऑर्डर डासना जेल पहुंचने के बाद तलवार दंपति की मेडिकल जांच हुई, जिसके बाद दोनों को रिहाई के लिए तैयार किया गया। खबरें हैं कि जेल से बाहर निकलने से पहले तलवार दंपति ने अपना काफी सामान अंदर जेल के लोगों को ही दे दिया। वहीं दंपति ने हर 15 दिन में जेल में जाकर कैदियों को डेंटल सुविधाएं दिए जाने की बात कही है। इसना ही नहीं जेल में बने डेंटल क्लीनिक को भी इस दंपति ने यथावत रखने का अनुरोध जेल प्रशासन से किया है। 

ये भी पढ़ें- राहुल-सुरजेवाला ने मोदी पर फेंके 'ट्वीट बम', लिखा-गुजराती छाता लेकर निकलें, होगी जुमलों की बारिश

इस बार मनाएंगे दीपावली

इस पूरे मामले के बाद नुपूर तलवार के पिता ने कहा कि पिछले 9 सालों से हमने दीपावली नहीं मनाई है। इस बार मेरी बेटी और दामाद जेल से बाहर रिहा होकर आ रहे है। इस बार हम दीपावली मनाएंगे। वहीं राजेश तलवार के भाई ने कहा कि यह मौका हमारे परिवार के लिए बहुत खुशी का मौका है। हम पूरा परिवार कुछ समय अभी एक साथ एकांत में बिताना चाहेंगे। 

ये भी पढ़ें- अगली दीपावली राम भक्त अयोध्या में रामलला के मंदिर में मनाएंगे - सुब्रमण्यम स्वामी

Todays Beets: