Tuesday, October 16, 2018

Breaking News

   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||   सुप्रीम कोर्ट ने कठुआ मामले में सीबीआई जांच की अर्जी को खारिज किया    ||   मध्यप्रदेश सरकार ने पांच नए सूचना आयुक्त चुने, राज्यपाल को भेजी सिफारिश     ||   बिहार: ASI संग शराब बेच रहा था थानेदार, अरेस्ट     ||

LIVE: राहुल गांधी का पीएम मोदी पर ‘राफेल वार’, कहा- वे खुद भ्रष्ट हैं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
LIVE: राहुल गांधी का पीएम मोदी पर ‘राफेल वार’, कहा- वे खुद भ्रष्ट हैं

नई दिल्ली।  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार की दोपहर राफेल मुद्दे को लेकर एक बार फिर से सरकार पर हमला बोला। पहले उन्होंने फा्रंस के पूर्व राष्ट्रपति के बयान का हवाला दिया। उसके बाद उन्होंने कहा कि अब राफेल विमान बनाने वाली कंपनी दसाॅल्ट के अधिकारी का बयान पढ़ते हुए कहा कि इससे साफ है कि पीएम ने उन्हें 30 हजार करोड़ रुपये की फायदा कराया। उन्होंने कहा कि कभी भी विमान का एक पूर्जा तक नहीं बनाने वाले रिलायंस कंपनी को पीएम ने इसका ठेका दिलवाया।  

गौरतलब है कि राहुल गांधी इससे पहले भी राफेल को लेकर लगातार सरकार पर हमलावर रहे हैं। संसद में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान भी उन्होंने देश के पीएम और रक्षा मंत्री पर झूठ बोलने का आरोप लगाया गया था। इसके बाद पीएम और रक्षा मंत्री ने उनके इस बयान का खंडन किया था। 


ये भी पढ़ें - Breaking News - ED ने कीर्ति चिदंबरम पर की बड़ी कार्रवाई। लंदन, स्पेन समेत भारत में मौजूद 54 ...

यहां बता दें कि उन्होंने सीधे पीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि वे भ्रष्ट हैं और राफेल की कीमत के बारे मंे उनसे पूछने पर वे आंख तक नहीं मिला पाए। यह सीधे-सीधे प्रधानमंत्री के भ्रष्टाचार का मामला है। राहुल गांधी ने कहा कि पीएम राफेल को लेकर कुछ भी नहीं बोलते हैं और अब रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण का फ्रांस जाना एक बड़ा सवाल खड़ा करता है। उन्होंने कहा कि वित्त मंत्री अरुण जेटली से संयुक्त संसदीय समिति के जरिए जांच कराने की मांग की थी लेकिन उसे भी नहीं माना गया। पत्रकारों द्वारा पीएम के इस्तीफे के बारे मंे सवाल पूछने पर उन्होंने कहा कि देना चाहिए, वे तो अपना पक्ष भी साफ नहीं कर पा रहे हैं। 

Todays Beets: