Wednesday, October 17, 2018

Breaking News

   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||   सुप्रीम कोर्ट ने कठुआ मामले में सीबीआई जांच की अर्जी को खारिज किया    ||   मध्यप्रदेश सरकार ने पांच नए सूचना आयुक्त चुने, राज्यपाल को भेजी सिफारिश     ||   बिहार: ASI संग शराब बेच रहा था थानेदार, अरेस्ट     ||

एक बार फिर से जनता की जेब में लगेगी ‘आग’, पेट्रोल की कीमत में हुआ इजाफा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
एक बार फिर से जनता की जेब में लगेगी ‘आग’, पेट्रोल की कीमत में हुआ इजाफा

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों का असर एक बार फिर से आम लोगों को परेशान करने लगा है। मंगलवार को पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा हो गया। पेट्रोल की कीमत 77 रुपये प्रतिलीटर हो गया जबकि डीजल की कीमत 68.50 रुपये प्रतिलीटर हो गया। पेट्रोल-डीजल के खुदरा दाम 30 जुलाई से लगातार बढ़ रहे हैं। दिल्ली में पिछले नौ दिन में पेट्रोल 90 पैसे व डीजल 88 पैसे महंगा हो चुका है।

गौरतलब है कि सरकारी क्षेत्र की तेल कंपनियों ने जून 2017 से 15 दिन के बजाय दैनिक आधार पर पेट्रोल-डीजल के दाम तय कर रही हैं। तब से हर दिन कच्चे तेल के हिसाब से अंतरराष्ट्रीय बाजार के दाम में बदलाव किया जाता है। यहां बता दें कि 9 जून के बाद से ही पेट्रोल की कीमत 77 रुपये प्रतिलीटर से कम थी।

ये भी पढ़ें - मरीना बीच पर ही होगा करुणानिधि का अंतिम संस्कार, चेन्नई की सड़कों पर उमड़ा जनसैलाब


यहां बता दें कि इस साल 29 मई को पेट्रोल दिल्ली में 78.43 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया था जो इसका अब तक का सबसे ऊंचा स्तर है। उस दिन डीजल के दाम भी 69.30 रुपये की रिकार्ड ऊंचाई पर पहुंच गया था।

 

अमेरिका के द्वारा ईरान पर प्रतिबंध लागू किए जाने के बाद से कच्चा तेल फिर 75 डॉलर पहुंच गया है। विश्लेषकों का कहना है कि नवंबर में इन प्रतिबंधों को लागू करने की समयसीमा खत्म होने पर तेल 90 डॉलर प्रति बैरल तक जा सकता है।

Todays Beets: