Tuesday, June 19, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

तमिलनाडू में विधायकों को मिलेगी दोगुनी सैलरी, सीएम ने सदन में किया विधेयक पेश, किसानों की मांगों को किया नजरअंदाज

अंग्वाल न्यूज डेस्क
तमिलनाडू में विधायकों को मिलेगी दोगुनी सैलरी, सीएम ने सदन में किया विधेयक पेश, किसानों की मांगों को किया नजरअंदाज

चेन्नई। तमिलनाडू सरकार ने राज्य के किसानों और परिवहन कर्मचारियों की मांग को नजरअंदाज करते हुए विधानसभा में विधायकों की तन्ख्वाह और अन्य भत्तों को दोगुना किए जाने वाला विधेयक पेश किया है। बता दें कि सरकार की तरफ से यह विधेयक ऐसे समय में लाया गया है जब परिवहन कर्मचारी बेहतर सैलरी की मांग को लेकर हड़ताल पर हैं और किसान इस भीषण ठंड में अपनी कर्ज माफी और न्यूतनम समर्थन मूल्य बढ़ाने के लिए दिल्ली में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। 

दोगुनी सैलरी मिलेगी

गौरतलब है कि विधायकों की सैलरी बढ़ाने का ऐलान खुद मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने पिछले साल जुलाई में की थी और आज उन्होंने सदन में विधेयक पेश कर दिया। खबरों के अनुसार इस विधेयक के पारित होने के बाद विधायकों को मिलने वाली प्रति महीने तनख्वाह और दूसरे भत्ते 55,000 रुपये से बढ़कर 1.05 लाख रुपये हो जाएंगे यानी कि अब उन्हें दोगुनी राशि मिलने लगेगी।

ये भी पढ़ें - Breaking news...84 के सिख दंगों की फिर खुलेगी फाइल, हाईकोर्ट के रिटायर जज की अध्यक्षता में ती...

1 जुलाई 2017 से होगी प्रभावी


यहां बता दें कि पलानीस्वामी के द्वारा पिछले साल किए गए ऐलान के मुताबिक मुख्यमंत्री, मंत्री, स्पीकर, डिप्टी स्पीकर, विपक्ष के नेता और सरकारी के कार्यकारी अधिकारी मिलने वाले भत्ते में की गई बढ़ोतरी पिछले साल के 1 जुलाई से प्रभाव में आएगी। राज्य सरकार ने विधायकों को क्षेत्र के विकास के लिए मिलने वाली रकम को भी 2 करोड़ से बढ़ाकर ढाई करोड़ कर दिया है। वहीं पूर्व विधायकों और मृत विधायी परिषद के सदस्यों को मिलने वाली पेंशन को 12,000 रुपए से बढ़ाकर 20,000 रुपये कर दिया गया है।

भत्तों में भी हुआ इजाफा

तमिलनाडू सरकार ने विधायकों को मिलने वाले भत्तों में भी इजाफा किया है। अब विधायकों के मुआवजा भत्ता को 7,000 से बढ़ाकर 10,000 रुपये वहीं टेलीफोन भत्ते को 5,000 से बढ़ाकर 7,500 रुपये कर दिया गया है। निर्वाचन क्षेत्र भत्ते को 10,000 से बढ़ाकर 25,000 रुपये और संगठित भत्ते को 2,500 से बढ़ाकर 5,000 रुपये कर दिया गया है। इसके अलावा परिवहन भत्ते को 20,000 से बढ़ाकर 25,000 रुपये कर दिया गया है लेकिन पोस्टल भत्ते को 2,500 रुपये बरकरार रखा गया है।

 

Todays Beets: