Thursday, September 21, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

सुप्रीम कोर्ट ने जेपी समूह के MD समेत डायरेक्टरों के विदेश जाने पर लगाई रोक, 27 अक्टूबर तक जमा कराने होंगे 2000 करोड़ रुपये

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सुप्रीम कोर्ट ने जेपी समूह के MD समेत डायरेक्टरों के विदेश जाने पर लगाई रोक, 27 अक्टूबर तक जमा कराने होंगे 2000 करोड़ रुपये

नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट ने एक बार फिर जेपी समूह पर शिकंजा कस दिया है। कोर्ट ने इस समूह के MD समेत सभी डायरेक्टरों के विदेश जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। इतना ही नहीं कोर्ट ने जेपी इंफ्रा कंपनी में निवेश करने वाले लोगों को राहत देते हुए कंपनी को 2000 करोड़ रुपये जमा कराने का आदेश दिया है। कोर्ट ने यह रकम 27 अक्टूबर तक जमा करवाने के लिए कहा है। इस दौरान कोर्ट ने साफ कहा कि हमें निवेशकों के हितों की चिंता है। 

बता दें कि जेपी समूह की बिल्डर कंपनी जेपी इन्फ्रा को लेकर सुप्रीम कोर्ट में आज एक अहम सुनवाई हुई। इसमें कोर्ट ने निवेशकों के हित में फैसला लेते हुए कंपनी के एमडी समेत सभी डॉयरेक्टरों के विदेश जाने पर पाबंदी लगा दी है। इसके साथ ही निवेशकों के हितों की बात कहते हुए कंपनी को आगामी 27 अक्टूबर तक दो हजार करोड़ रुपये जमा कराने के भी निर्देश दिए। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने जेपी समूह की बिल्डर कंपनी जेपी इन्फ्रा को दिवालिया घोषित करने की प्रक्रिया पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी थी। इस मामले में सुनवाई करते हुए कोर्ट ने नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल के आदेश पर रोक लगाने का आदेश दिया था।


इसी बीच IDBI बैंक ने सुप्रीम कोर्ट में जेपी समूह की बिल्डर कंपनी जेपी इन्फ्रा को दिवालिया घोषित करने की प्रक्रिया पर सुप्रीम कोर्ट की रोक के आदेश पर संसोधन की मांग की थी।

Todays Beets: