Saturday, August 18, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

अब पेट्रोल के बदले ईंधन के रूप में इस्तेमाल होगी ‘बीयर’, वैज्ञानिक कर रहे शोध 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब पेट्रोल के बदले ईंधन के रूप में इस्तेमाल होगी ‘बीयर’, वैज्ञानिक कर रहे शोध 

नई दिल्ली। वाहन चालकों और शराब के शौकीनों के लिए एक अच्छी खबर है। अब वाहन  पेट्रोल की जगह बीयर से चलेंगे। ब्रिटेन में वैज्ञानिकों ने शोध के आधार पर कहा है कि ईंधन के लिए पेट्रोल का सबसे बेहतर विकल्प बायोईथेनॉल हो सकता है, जिसे तैयार करने में ‘बीयर’ सबसे उपयोगी चीज साबित होगी। उनका मानना है कि शराब में पाया जाने वाला ईथेनाॅल पेट्रोल के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है लेकिन इसे ब्यूटेनाॅल में बदलकर ऐसा किया जा सकता है। 

‘बीयर’ बनेगी पेट्रोल का विकल्प

गौरतलब है कि इस रिसर्च से जुड़े एक प्रोफेसर ने कहा, ‘शराब में पाया जाने वाला एल्कोहोल असल में उसी तरह का ईथेनॉल होता है जिससे ब्यूटेनॉल बनाकर पेट्रोल की जगह इस्तेमाल किया जा सकता है।’ शोधकर्ताओं ने बताया कि शराब में बीयर ही एक ऐसा उत्पाद है जिसे ब्यूटेनाॅल में बदलकर कारखानों को चलाने वाला ईंधन बनाया जा सकता है। 


ये भी पढ़ें - गुजरात चुनाव के बीच मणिशंकर अय्यर के विवादित बोल, प्रधानमंत्री को बताया ‘नीच किस्म का आदमी’

मशीनों को चलाने वाला ईंधन

यहां बता दें कि वैज्ञानिकों ने इस बात का दावा नहीं किया है कि बीयर को ही पेट्रोल के बदले इस्तेमाल किया जाएगा। उनका कहना है कि बीयर में पाए जाने वाले ईथेनॉल से ऐसा रसायन तैयार किया जाएगा जो बीयर के मॉलीक्यूलर नमूने से मिलता-जुलता होगा और उसे फैक्ट्रियों में मशीनें चलाने के लिए ईंधन के रूप में इस्तेमाल किया जा सकेगा। वैज्ञानिकों ने कहा कि अभी इसे विकसित करने में करीब 5 साल लगेंगे, उन्होंने कहा कि अगर यह सफल हो जाता है तो आसानी से उपलब्ध होने वाली बीयर पेट्रोल का एक बेहतर विकल्प हो सकती है।

Todays Beets: