Wednesday, May 22, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

अयोध्या विवादित ढांचा की 26वीं बरसी आज, इकबाल अंसारी को मिली जान से मारने की धमकी, सुरक्षा चाक-चौबंद

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अयोध्या विवादित ढांचा की 26वीं बरसी आज, इकबाल अंसारी को मिली जान से मारने की धमकी, सुरक्षा चाक-चौबंद

नई दिल्ली। अयोध्या में गुरुवार को बाबरी मस्जिद विध्वंस की 26वीं बरसी पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। भारी संख्या में पुलिस बल के साथ मजिस्ट्रेटों की तैनाती भी की गई है। अयोध्या शहर से लेकर ग्रामीण इलाकों में भी चप्पे-चप्पे पर पुलिस को तैनात किया गया है। बम खोजी व निरोधी दस्ते व खुफिया महकमे के कर्मियों के साथ शहर में होटल, धर्मशाला, लाज व रेस्टोरेंट तथा सार्वजनिक स्थलों की जांच व तलाशी का अभियान जारी है। पुलिस महकमे ने इलाके में सघन जांच एवं तलाशी का अभियान शुरू कर दिया है। हालांकि रामलला के दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं के लिए किसी तरह की रोक नहीं है। बता दें कि हिंदु संगठनों ने जहां शौर्य दिवस मनाने का फैसला लिया है वहीं मुस्लिम समुदाय के लोगों ने काला दिवस मनाने का निर्णय लिया है। मंदिर-मस्जिद विवाद के मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी को एक बार फिर से जान से मारने की धमकी दी गई है। 

गौरतलब है कि आज से करीब 26 साल पहले 6 दिसंबर को ही कार सेवकों ने  विवादित ढांचा गिरा दिया था। उस आंदोलन के दौरान पुलिस के द्वारा चलाई गई गोली से कई कार सेवकों की मौत हो गई थी। इसके बाद से मंदिर-मस्जिद विवाद का सुप्रीम कोर्ट में चला गया जो आजतक अनसुलझा है। ऐसे में विवादित ढांचा के गिराए जाने की बरसी को देखते हुए एसपी सिटी अनिल सिंह ने बताया कि बरसी के मद्देनजर रामनगरी की सुरक्षा को अभेद्य कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें - आम्रपाली ग्रुप को कोर्ट का 'सुप्रीम' झटका, फाइव स्टार होटल, मॉल, दफ्तर समेत संपत्तियों को जब्...


यहां बता दें कि एसपी सिटी ने कहा कि अयोध्या में दर्शन-पूजन पर कोई रोक नही हैं लेकिन शांति व्यवस्था से खिलवाड़ करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इस मौके पर किसी भी नए कार्यक्रमों की अनुमति नहीं दी गई है और पूरे जिले में धारा 144 लागू कर दी गई है। सुरक्षा के लिहाज से अयोध्या में 6 कंपनी पीएसी, 2 कंपनी आरएफ, चार एडिशनल एसपी, 10 डिप्टी एसपी, 10 इंस्पेक्टर, 150 सब इंस्पेक्टर , 500 सिपाही सहित डाग स्कवॉयड, बम स्कवॉयड व खुफिया विभाग की टीमें लगाई गई हैं।

आपको बता दें कि बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी को एक बार फिर से धमकी भरा पत्र मिला है। लालू यादव राष्ट्रीय अध्यक्ष राजद बिहार, पटना के नाम से भेजे गए पत्र में उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई है। पत्र में इकबाल अंसारी को मुकदमा वापस न लेने के बदले जान से मारने की धमकी दी गई है।

Todays Beets: