Friday, April 26, 2019

Breaking News

   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||

विमानों के दुर्घटनाग्रस्त होने के पीछे सोशल मीडिया का इस्तेमाल जिम्मेदार- वायुसेना प्रमुख

अंग्वाल न्यूज डेस्क
विमानों के दुर्घटनाग्रस्त होने के पीछे सोशल मीडिया का इस्तेमाल जिम्मेदार- वायुसेना प्रमुख

नई दिल्ली। वायुसेना के विमानों के लगातार दुर्घटनाग्रस्त होने को लेकर वायुसेना प्रमुख ने एक बड़ा बयान दिया है। एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने बंगलुरु इंडियन सोसायटी ऑफ एयरोस्पेस मेडिसिन के 57वें सम्मेलन में कहा कि पायलटों के सोशल मीडिया की लत की वजह से विमान दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि देर रात तक सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने की वजह से उनकी नींद पूरी नहीं हो पाती है ऐसे में विमान उड़ाने पर उसके दुर्घटनाग्रस्त होने की संभावना ज्याद बढ़ जाती है। 

गौरतलब है कि एयर चीफ मार्शल धनोआ ने यहां इंडियन सोसायटी ऑफ एयरोस्पेस मेडिसिन के 57वें सम्मेलन में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सभी देर रात तक कई घंटे सोशल मीडिया पर बिताते दिखते हैं। कई बार उड़ान से पहले की ब्रीफिंग सुबह 6 बजे होती है और तब तक पायलट ठीक से नींद नहीं ले पाते हैं।


ये भी पढ़ें - तेलंगाना में जमकर ‘केसीआर’ पर बरसे भाजपाध्यक्ष, कहा- जबर्दस्ती चुनाव थोपने वालों की नहीं बनेग...

यहां बता दें कि वायुसेना प्रमुख ने कहा कि एक ऐसे सिस्टम की जरूरत है जिससे इस बात का पता चल पाए कि पायलटों की नींद पूरी हुई है या नहीं। उन्होंने साल 2013 में राजस्थान के बाड़मेड़ में दुर्घटनाग्रस्त हुए मिग 21 का उदाहरण देते हुए कहा कि पायलट के कई दिनों से पूरी नींद नहीं लेने की वजह से यह दुर्घटना हुई थी। 

Todays Beets: