Monday, December 17, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

टूट गई वडाली ब्रदर्स की जोड़ी , हार्ट अटैक के चलते प्यारे लाल वडाली का अमृतसर में निधन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
टूट गई वडाली ब्रदर्स की जोड़ी , हार्ट अटैक के चलते प्यारे लाल वडाली का अमृतसर में निधन

नई दिल्ली । तू माने या न माने दिलदारा, असां ते तेनु रब मनिया.....जैसे बहुर्चित गीत को गाने वाले देश में सूफी संगीत का दिग्गज प्यारे लाल वडाली का शुक्रवार तड़के निधन हो गया। गुरुवार शाम उन्हें दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद उन्हें अमृतसर के अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां आज तड़के करीब 4 बजे उन्हें अंतिम सांस ली। वह 75 वर्ष के थे। उनके निधन के बाद पार्थिव शरीर को पैतृक गांव ले जाया गया है।   पंजाबी सूफी गानों के लिए महशूर वडाली ब्रदर्स में उस्ताद प्यारे लाल छोटे थे, जबकि उनके बड़े भाई पूरनचंद वडाली है, जो एक समय पहलवानी भी कर चुके हैं। खास बात ये है कि एक समय बॉलीवुड के लिए गाना गाने से मना कर देने वाले वडाली बंधुओं ने बाद में हिन्दी फिल्मों के लिए कई दमदार गानें रिकॉर्ड किए। 


बता दें कि देश के मशहूर पटियाला घराने से ताल्लुक रखने वाले वडाली ब्रदर्स तू माने या न माने, हीर और याद पिया की जैसे सूफी गानों के याद किए जाते हैं। इस जोड़ी ने कई भजन भी गाए हैं। वडाली ब्रदर्स को उनके काम के लिए 1992 में संगीत नाटक अकादमी का प्रतिष्ठित सम्मान दिया गया. 1998 में उन्हें तुलसी अवॉर्ड दिया गया था। 

Todays Beets: