Monday, September 24, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

टूट गई वडाली ब्रदर्स की जोड़ी , हार्ट अटैक के चलते प्यारे लाल वडाली का अमृतसर में निधन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
टूट गई वडाली ब्रदर्स की जोड़ी , हार्ट अटैक के चलते प्यारे लाल वडाली का अमृतसर में निधन

नई दिल्ली । तू माने या न माने दिलदारा, असां ते तेनु रब मनिया.....जैसे बहुर्चित गीत को गाने वाले देश में सूफी संगीत का दिग्गज प्यारे लाल वडाली का शुक्रवार तड़के निधन हो गया। गुरुवार शाम उन्हें दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद उन्हें अमृतसर के अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां आज तड़के करीब 4 बजे उन्हें अंतिम सांस ली। वह 75 वर्ष के थे। उनके निधन के बाद पार्थिव शरीर को पैतृक गांव ले जाया गया है।   पंजाबी सूफी गानों के लिए महशूर वडाली ब्रदर्स में उस्ताद प्यारे लाल छोटे थे, जबकि उनके बड़े भाई पूरनचंद वडाली है, जो एक समय पहलवानी भी कर चुके हैं। खास बात ये है कि एक समय बॉलीवुड के लिए गाना गाने से मना कर देने वाले वडाली बंधुओं ने बाद में हिन्दी फिल्मों के लिए कई दमदार गानें रिकॉर्ड किए। 


बता दें कि देश के मशहूर पटियाला घराने से ताल्लुक रखने वाले वडाली ब्रदर्स तू माने या न माने, हीर और याद पिया की जैसे सूफी गानों के याद किए जाते हैं। इस जोड़ी ने कई भजन भी गाए हैं। वडाली ब्रदर्स को उनके काम के लिए 1992 में संगीत नाटक अकादमी का प्रतिष्ठित सम्मान दिया गया. 1998 में उन्हें तुलसी अवॉर्ड दिया गया था। 

Todays Beets: