Saturday, December 15, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

एसएससी विवाद में सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर, अदालत ने केन्द्र से मांगा जवाब

अंग्वाल न्यूज डेस्क
एसएससी विवाद में सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर, अदालत ने केन्द्र से मांगा जवाब

नई दिल्ली। कर्मचारी चयन आयोग(एसएससी) विवाद सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच चुका है। एक जनहित याचिका को स्वीकार करते हुए कोर्ट ने केन्द्र सरकार से इस मामले में जवाब मांगा है। कोर्ट ने अगले सप्ताह सरकारी कानूनी अधिकारियों को कोर्ट में तलब किया है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा याचिका को स्वीकार करने के बाद आंदोलन कर रहे छात्रों में थोड़ी उम्मीद जगी है। बता दें कि एसएससी परीक्षा में हुई धांधली को लेकर छात्र एसएससी के लोधी रोड स्थित कार्यालय के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं। छात्रों की मांग है कि मामले की सीबीआई जांच कराई जाए। 

ये भी पढ़ें - मुख्य सचिव मारपीट मामले में ‘आप’ को राहत, कोर्ट ने अमानतुल्ला को जमानत पर किया रिहा


यहां गौर करने वाली बात है कि छात्रों का आरोप है कि ग्रेजुएट लेवल परीक्षा के साथ-साथ एसएससी द्वारा आयोजित सभी परीक्षाओं में गड़बड़ी हुई है। परीक्षार्थियों का कहना है कि उन्हें सभी परीक्षाओं को लेकर संदेह है और इसकी स्वतंत्र जांच होनी चाहिए। प्रदर्शन करने पहुंचे छात्र व्हाट्सएप पर वायरल हुए लीक पेपर के स्क्रीनशॉट के साथ प्रदर्शन कर रहे थे। प्रदर्शन कर रहे एक छात्र ने कहा कि परीक्षा के दौरान उनके जूते तक उतरवा लिए जाते हैं। ऐसे में ऑनलाइन प्रश्न पत्र का लीक होना, अधिकारियों के भ्रष्टाचार में लिप्त होने का इशारा कर रहा है। 

Todays Beets: