Thursday, February 22, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

हिमाचल प्रदेश में जेल की सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान, 3 विचाराधीन कैदी हुए फरार 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हिमाचल प्रदेश में जेल की सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान, 3 विचाराधीन कैदी हुए फरार 

शिमला। हिमाचल प्रदेश की सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली कंडा सेंट्रल जेल की सुरक्षा व्यवस्था को धता बताते हुए देर रात तीन कैदी फरार हो गए। बुधवार की सुबह बालूगंज थाने में इस बारे में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। बता दें कि ये तीनों कैदी मर्डर और रेप के मामले में विचाराधीन हैं। पुलिस ने इनकी तलाश शुरू कर दी है। खबरों के मुताबिक तीनों विचाराधीन कैदी रात 12 बजे सेंट्रल जेल कंडा की सुरक्षा घेरा तोड़ते हुए जेल की दीवार फांद कर फरार हो गए। फरार कैदियों की पहचान लीला धर (22), प्रताप सिंह (27) और प्रेम बहादुर(22) के रूप में हुई है।

तलाश में जुटी पुलिस

गौरतलब है कि लीलाधर पर हत्या का आरोप है वहीं, प्रताप सिंह पर नाबालिग से रेप का आरोप है। उसके खिलाफ शिमला के महिला थाने में पॉक्सो एक्ट के तहत भी केस दर्ज है। तीसरे फरार कैदी प्रेम बहादुर पर भी रेप का आरोप है और तीनों ही कैदी नेपाल के रहने वाले हैं।  पुलिस ने हिमाचल की सीमा पर तलाशी अभियान तेज कर दी है। 


ये भी पढ़ें - भाजपा नेता जीवीएल का राहुल गांधी पर तीखा हमला, कांग्रेस उपाध्यक्ष को ‘बाबर भक्त’ और ‘खिलजी का...

 ओल्ड बस स्टेंड से भी भाग गया था मर्डर का दोषी

बता दें कि कंडा जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा एक कैदी पहले भी फरार हो गया था। बाद में पुलिस ने उसे गोवा से गिरफ्तार किया था। दर्शन कुमार उर्फ बंटी जेल से मालरोड और समरहिल मोबाइल कैंटीन में बेकरी की सप्लाई देने आया था और इसी दौरान पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। 

Todays Beets: