Wednesday, August 15, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

हिमाचल प्रदेश में जेल की सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान, 3 विचाराधीन कैदी हुए फरार 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हिमाचल प्रदेश में जेल की सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान, 3 विचाराधीन कैदी हुए फरार 

शिमला। हिमाचल प्रदेश की सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली कंडा सेंट्रल जेल की सुरक्षा व्यवस्था को धता बताते हुए देर रात तीन कैदी फरार हो गए। बुधवार की सुबह बालूगंज थाने में इस बारे में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। बता दें कि ये तीनों कैदी मर्डर और रेप के मामले में विचाराधीन हैं। पुलिस ने इनकी तलाश शुरू कर दी है। खबरों के मुताबिक तीनों विचाराधीन कैदी रात 12 बजे सेंट्रल जेल कंडा की सुरक्षा घेरा तोड़ते हुए जेल की दीवार फांद कर फरार हो गए। फरार कैदियों की पहचान लीला धर (22), प्रताप सिंह (27) और प्रेम बहादुर(22) के रूप में हुई है।

तलाश में जुटी पुलिस

गौरतलब है कि लीलाधर पर हत्या का आरोप है वहीं, प्रताप सिंह पर नाबालिग से रेप का आरोप है। उसके खिलाफ शिमला के महिला थाने में पॉक्सो एक्ट के तहत भी केस दर्ज है। तीसरे फरार कैदी प्रेम बहादुर पर भी रेप का आरोप है और तीनों ही कैदी नेपाल के रहने वाले हैं।  पुलिस ने हिमाचल की सीमा पर तलाशी अभियान तेज कर दी है। 


ये भी पढ़ें - भाजपा नेता जीवीएल का राहुल गांधी पर तीखा हमला, कांग्रेस उपाध्यक्ष को ‘बाबर भक्त’ और ‘खिलजी का...

 ओल्ड बस स्टेंड से भी भाग गया था मर्डर का दोषी

बता दें कि कंडा जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा एक कैदी पहले भी फरार हो गया था। बाद में पुलिस ने उसे गोवा से गिरफ्तार किया था। दर्शन कुमार उर्फ बंटी जेल से मालरोड और समरहिल मोबाइल कैंटीन में बेकरी की सप्लाई देने आया था और इसी दौरान पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। 

Todays Beets: