Friday, September 21, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

 रैलियों और शादी के लिए ट्रेन बुक कराना हुआ महंगा, आईआरसीटीसी वसूलेगा टैक्स

अंग्वाल न्यूज डेस्क
 रैलियों और शादी के लिए ट्रेन बुक कराना हुआ महंगा, आईआरसीटीसी वसूलेगा टैक्स

नई दिल्ली। अगर आप शादी या किसी राजनीतिक रैली के लिए लोगों को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए ट्रेन की बुकिंग कराना चाहते हैं तो सावधान हो जाएं। शुक्रवार से ऐसा करना महंगा हो जाएगा। इन कामों के लिए बुकिंग का अधिकार रेल मंत्रालय ने इंडियन रेलवे टूरिज्म एंड कैटरिंग कारपोरेशन (आईआरसीटीसी) को देने का निर्णय लिया है। यह बुकिंग अब आॅनलाइन होगी और रेलवे इसके लिए सर्विस टैक्स भी वसूलेगा।  इस तरह की बुकिंग के लिए एक महीने पहले आवेदन देना होगा।

गौरतलब है कि ट्रेनों के कोच की बुकिंग के लिए रेलवे ने सिंगल विंडो सिस्टम के तहत यह जिम्मा आईआरसीटीसी को सौंपा है। अब फुल टैरिफ रेट (एफटीआर) की बुकिंग रेल मुख्यालय से नहीं बल्कि ऑनलाइन एवं टेलीफोन से की जा सकेगी। अनारक्षित रेलवे टिकट बुकिंग के माध्यम से कोच बुकिंग के लिए पैसा रेलवे काउंटर पर जमा नहीं होगा।

यहां बता दें कि रेलवे के इस फैसले के बाद कोच की बुकिंग कराकर यात्रा करना और महंगा हो जाएगा। आईआरसीटीसी को बतौर सर्विस टैक्स 5 प्रतिशत ज्यादा पैसा देना होगा। बड़ी बात यह है कि अगर यात्रियों की संख्या कोच के बर्थ से ज्यादा है तो प्रत्येक यात्री को अलग से किराया देना होगा। इससे रेलवे को भी थोड़ा नुकसान उठाना पड़ेगा क्योंकि कोच बुकिंग के लिए आईआरसीटीसी को छूट देना पड़ेगा।  


ये भी पढ़ें -कर्नाटक राजनीतिः भाजपा से डरी कांग्रेस और जेडीएस, विधायकों को बंगलुरु से हैदराबाद किया शिफ्ट   

गौर करने वाली बात है कि रेलवे बोर्ड की तरफ से जारी आदेश में कहा गया है कि कोच की बुकिंग एक महीने पहले स्वीकार की जाएगी। कोच की बुकिंग कराने वालों को आईआरसीटीसी के जोनल कार्यालय में संपर्क करना होगा। कोच की बुकिंग के लिए किसी तरह की रियायत नहीं दी जाएगी। ट्रेन के अतिरिक्त स्टॉपेज के लिए भी रेलवे पैसा वसूलेगा। 2 मिनट के अतिरिक्त स्टॉपेज के लिए 25 हजार रुपया अतिरिक्त देना होगा। सेंटर फॉर रेलवे इंफारमेशन सिस्टम (क्रिस) ने कोच की बुकिंग के लिए सॉफ्टवेयर तैयार कर लिया है।  

Todays Beets: