Monday, April 22, 2019

Breaking News

   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||

राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष का मंदिर पर बड़ा बयान, कहा-दिसंबर से शुरू हो जाएगा निर्माण

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष का मंदिर पर बड़ा बयान, कहा-दिसंबर से शुरू हो जाएगा निर्माण

नई दिल्ली। राममंदिर के निर्माण को लेकर राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष राम बिलास वेदांती ने शनिवार को एक बड़ा बयान दिया है। वेदांती ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण दिसंबर में शुरू हो जाएगा। वेदांती ने आगे कहा कि राम मंदिर का निर्माण बिना किसी अध्यादेश के आपसी सहमति से अयोध्या में किया जाएगा जबकि मस्जिद लखनऊ में बनाई जाएगी। बता दें कि इससे पहले शुक्रवार को आरएसएस की ओर से कहा गया था कि मंदिर निर्माण के लिए जरूरत पड़ने पर 1992 जैसा आंदोलन भी किया जा सकता है।

गौरतलब है कि अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर शनिवार को दिल्ली में देश भर के साधु धर्मादेश कार्यक्रम के जरिए सरकार पर दवाब बनाने की कोशिश में जुटे हैं। इस मामले में योग गुरु स्वामी रामदेव ने भी अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि यदि न्यायालय के निर्णय में देर हुई तो संसद में जरूर इसका बिल आएगा। आना ही चाहिए। राम जन्मभूमि पर राम मंदिर नहीं बनेगा तो किसका बनेगा?


ये भी पढ़ें - चुनाव से पहले मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने मारा ‘पंजा’, शिवराज के साले बने कांग्रेसी

यहां बता दें कि ठाणे में आरएसएस की तीन दिवसीय बैठक की समाप्ति पर सरकार्यवाह भैयाजी जोशी ने कहा था कि अगर जरूरत पड़ी तो मंदिर निर्माण के लिए 1992 जैसा आंदोलन भी किया जा सकता है। उधर, ऐसी खबर है कि अब दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति भगवान श्रीराम की अयोध्या में स्थापित की जाएगी। दिवाली पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इसकी घोषणा कर सकते हैं। 

Todays Beets: