Saturday, April 21, 2018

Breaking News

   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||   बिहार: शराब और मुर्गे के साथ गश्त करने वाली पुलिस टीम निलंबित     ||   रेलवे की 90 हजार नौकरियों के आवेदन की आज लास्ट डेट, दो करोड़ 80 लाख कर चुके हैं अप्लाई     ||   कांग्रेस में बड़ा बदलाव: जनार्दन द्विवेदी की छुट्टी, गहलोत बने नए AICC महासचिव     ||   भारत ने चीन की तिब्बत सीमा पर भेजे और सैनिक, गश्त भी बढ़ाई     ||   अब कॉल सेंटर की नौकरियों पर नजर, अमेरिकी सांसद ने पेश किया बिल     ||   ब्लूमबर्ग मीडिया का दावा, 2019 छोड़िए 2029 तक पीएम रहेंगे नरेंद्र मोदी     ||   फेसबुक को डेटा लीक मामले से लगा तगड़ा झटका, 35 अरब डॉलर का नुकसान     ||

उपराष्ट्रपति वैंकया नायडू का वंशवाद पर वार, कहा- वंशवाद और लोकतंत्र साथ-साथ नहीं चल सकते

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उपराष्ट्रपति वैंकया नायडू का वंशवाद पर वार, कहा- वंशवाद और लोकतंत्र साथ-साथ नहीं चल सकते

नई दिल्ली । हाल में वंशवाद को लेकर क्या आम और क्या खास हर कोई अपनी राय देता नजर आ रहा है। पिछले दिनों अमेरिका में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के वंशवाद को लेकर दिए गए बयान के बाद अब भारत के नवनियुक्त उप राष्ट्रपति एम वैंकया नायडू ने वंशवाद पर करारी चोट की है। उन्होंने वंशवाद वाली राजनीति पर निशाना साधते हुए शुक्रवार को कहा कि लोकतंत्र में वंशवाद बुरा है। नायडू ने एक किताब लॉन्च के मौके पर कहा - इन दिनों वंशवाद के बारे में चर्चा हो रही है। लेकिन वंशवाद और लोकतंत्र एक साथ नहीं चल सकते। बहुत सरल है कि यह हमारी प्रणाली को कमजोर कर देता है।

ये भी पढ़ें - योगी राज में बदमाशों के साथ 420 एंकाउंटर, 15 कुख्यात ढेर-850 सलाखों के पीछे

एक समारोह में शिकरत करने पहुंच उपराष्ट्रपति ने कहा कि हालांकि वह इस तरह की राजनीति से अब बाहर हैं लेकिन वह पहले इस तरह के विचारों के खिलाफ अपनी आवाज उठाते रहे हैं। हालांकि इस दौरान उन्होंने यह भी साफ कर दिया कि वह किसी विशेष राजनीतिक दल के संदर्भ में नहीं बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि मेरे दिमाग में कोई पार्टी विशेष नहीं है। ना ये पार्टी और न वो पार्टी, जैसा कि किसी ने कहा है कि हर कोई एक दूसरे का अनुसरण कर रहा है। 


ये भी पढ़ें - विधवाओं और दिव्यांगों से शादी करने पर सरकार देगी 2 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि 

हालांकि उनका यह बयान उस समय आया है जब कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बर्केल स्थित कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में किए गए अपने संवाद में एक राजनीतिक वंश के रूप में अपनी स्थिति का बचाव किया। उस दौरान राहुल गांधी ने उन लोगों पर कटाक्ष किया था, जो राजवंश की राजनीति के लाभों का फायदा उठाने का आरोप लगाते हैं। उन्होंने अपने संवाद के दौरान कहा था कि भारत देश इसी तरह से चलता है, अखिलेश यादव एक वंश से हैं, स्टालिन एक राजवंश से है, धूमल का बेटा भी एक राजवंश से ही है। इतना ही नहीं उन्होंने कहा था कि फिल्म अभिनेता अभिषेक बच्चन भी एक राजवंश से हैं। 

ये भी पढ़ें - सुप्रीम कोर्ट का फैसला, हिंदू परिवार की संपत्ति पर होगा सभी का बराबर हिस्सा 

Todays Beets: