Sunday, February 24, 2019

Breaking News

   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||

योगेंद्र यादव ने पीएम मोदी पर परिवार को परेशान करने का लगाया आरोप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
योगेंद्र यादव ने पीएम मोदी पर परिवार को परेशान करने का लगाया आरोप

  दिल्ली। स्वराज आंदोलन पार्टी के संस्थापक योगेंद्र यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उनके परिवार को निशाना बनाने का अरोप लगाया है। उनका कहना है कि मोदी सरकार उनके परिवार को बेवजह परेशान कर रही है। केंद्र सरकार और हरियाणा की भाजपा सरकार के खिलाफ बोलने के कारण उनके परिवार को निशाना बनाया जा रहा है। उन्होंने ट्वीट किया है बौखलाई मोदी सरकार मेरे पीछे पड़ी। परसों मेरी रेवाड़ी पद यात्रा पूरी हुई, एमएसपी और ठेकाबंदी आंदोलन शुरू हुआ। आज रेवाड़ी में मेरी  बहन जीजा और भांजे के अस्पताल पर आईटी रेड हुआ। यादव ने इस रेड के लिए पीएम मोदी पर आरोप लगाया है। उनका कहना मोदीजी मेरी जांच करो परिवार को क्यों तंग करते हो। 

यादव ने बताया कि सुबह 11 बजे दिल्ली से इनकम टैक्स अधिकारी और गुड़गांव पुलिस के 100 लोगों ने रेवाड़ी के कलावती और कमला नर्सिंग होम पर छापा मारा। इस दौरान डाॅक्टरों को केबिन में बंद कर दिया गया। गौरतलब है कि बीते दिनों सरकार की नीतियों के विरोध में योगेंद्र यादव ने रेवाड़ी यात्रा की। इस यात्रा में बड़ी संख्या में लोग शराब ठेकों के विरोध में सड़क पर उतरे। यात्रा के दौरान यादव 250 किमी पैदल चले।


 इस यात्रा के दौरन यादव ने फसल के एमएसपी का मुद्दा भी लोगों के बीच उठाया। दरअसल किसान स्वामीनाथन कमिशन की रिपोर्ट को लागू करने की मांग करते आ रहे हैं। एमएसपी का लाभ सभी किसानों को नहीं मिल पाता है। सरकार के खरीदारी केंद्र उतने सक्रिय नहीं होते। इन कमियों को यादव ने किसानों को समझाने की कोशिश की। यादव ने आरोप लगाया है कि इससे केंद्र और राज्य सरकार नाराज है।       

Todays Beets: