Friday, August 17, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

फेसबुक ने नफरत फैलाने वाले 58 करोड़ अकाउंट को किया बंद, पोस्ट भी किए डिलीट 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
फेसबुक ने नफरत फैलाने वाले 58 करोड़ अकाउंट को किया बंद, पोस्ट भी किए डिलीट 

नई दिल्ली। सोशल मीडिया प्लेटफाॅर्म फेसबुक ने पिछले कुछ समय में करीब 58 करोड़ ऐसे यूजर्स का अकाउंट डिलीट कर दिया है जो घृणा और नफरत को बढ़ावा दे रहे थे। इन अकाउंट्स को बंद करने के लिए फेसबुक लंबे समय से काम कर रहा था जिससे वो अपने बिजनेस करने के तरीके को ज्यादा पारदर्शी बना सके। खुद फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने इसकी पुष्टि की है। गौरतलब है कि घृणा और नफरत फैलाने वाले कुछ अकाउंट का पता उसने खुद लगाया और कुछ के बारे में यूजर्स ने शिकायत की थी। 

गौरतलब है कि सबसे ज्यादा उन पोस्ट्स के बारे में फेसबुक यूजर्स ने अपनी चिंता जताई जिनमें अडल्ट न्यूडिटी या सेक्सुअल ऐक्टिविटी को बढ़ावा देने की बात कही गई थीं। हालांकि बच्चों पर होने वाले यौन अपराध या फिर पोर्न को इस रिपोर्ट में कवर नहीं किया गया है। अक्टूबर-दिसंबर 2017 की तरह ही 2018 के पहले तीन महीनों में भी इस तरह की पोस्ट्स की संख्या करीब 21 मिलियन रही।


ये भी पढ़ें - डाटा चोरी की खबरों से परेशान फेसबुक ने उठाया बड़ा कदम, ऐसे 200 ऐप को किया बाहर

यहां बता दें कि इससे पहले फेसबुक ने उन 200 ऐप्स को अपने मंच से हटा दिया था जो डाटा लीक कर उनका गलत इस्तेमाल कर रहे थे। फेसबुक के प्रोडक्ट पार्टनरशिप वाईस प्रेसिडेंट इमी आर्कबोंग ने जानकारी देते हुए बताया है कि फिलहाल इस मामले की जांच चल रही है और हमारे एक्सपर्ट्स इन ऐप्स की जांच कर रहे हैं।   

Todays Beets: