Wednesday, August 23, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

इंटरनेट इस्तेमाल में भारत और चीन के युवा विश्वभर में हैं सबसे आगे

अंग्वाल संवाददाता
इंटरनेट इस्तेमाल में भारत और चीन के युवा विश्वभर में हैं सबसे आगे

नई दिल्ली। दुनियाभर के 15 से 24 आयु वर्ग के लोगों में भारतीय युवा इंटरनेट इस्तेमाल में सबसे आगे निकल गए है। दरअसल,  विश्व में इंटरनेट उपयोग करने वाले 83 करोड़ युवाओं में 39 फीसदी युवा भारत और चीन के है। अमेरिका ने हाल ही में एक रिपोर्ट जारी कर यह जानकारी साझा की है। अमेरिका की अंतरराष्ट्रीय टेलीकम्यूनिकेशन यूनियन द्वारा आंकड़े के अनुसार, विश्व में ऑनलाइन सेवाओं में काम करने वाले 83 करोड़ युवाओं में से 32 करोड़ यानी 39 प्रतिशत चीन और भारत के हैं। आईटीयू के आंकड़े दर्शाते हैं कि ब्रॉडबैंड पहुंच के कारण ग्राहक संख्या में महत्वपूर्ण वृद्धि हुई है।

यह भी पढ़े- Snapdeal से टूटी डील, flipkart  ने की ebay से डील

 

 

इन आंकड़ो के मुताबिक, चीन और भारत के 15-24 वर्ष के युवा इंटरनेट पर अधिकतर ऑनलाइन रहते हैं। कम विकसित देशों में इंटरेनट सेवाओं का इस्तेमाल करने वालों में 35 फीसदी लोग ही 15-24 आयु वर्ग से हैं। वहीं विकसित देशों में इस आयु वर्ग के 13 फीसदी लोग और 23 फीसदी वैश्विक स्तर पर हैं। बता दें कि भारत में पिछले कुछ वर्षो में इंटरेनट के इस्तेमाल में तेजी से वृद्धि हुई है। जिसके पीछे का अहम कारण भारत में डाटा की कीमतों में गिरावट आना है।

यह भी पढ़े- सोशल मीडिया के जरिए अब कॉलेज पहुंचाएंगे छात्रों तक सभी आवश्यक जानकारी


 

 

पिछले पांच सालों में वृद्धि

आईटीयू महासचिव हुलिन झाओ ने बताया कि आईसीटी फैक्ट्स एंड फिगर 2017 दर्शाते हैं कि ब्रॉडबैंड नेटवर्क की उपलब्धता में वृद्धि से इंटरनेट की सेवाओं में विस्तार हुआ है। साथ ही उन्होंने कहा डिजिटल कनेक्टिविटी जीवन को बेहतर बनाने में अहम भूनिका निभाती है। मोबाइल ब्रॉडबैंड ग्राहक संख्या में पिछले पांच वर्षों में सलाना बढ़ोतरी हुई है। साल 2017 के अंत तक दुनिया में इसके 4.3 अरब तक पहुंचने की संभावना जताई गई है।   

यह भी पढ़े- 251 रुपये में मोबाइल फोन देने वाली कंपनी पर कस सकता है ईडी का शिकंजा

Todays Beets: