Saturday, August 19, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

इन बातों को भूलकर भी गूगल पर न करें सर्च, बढ़ सकती हैं आपकी मुश्किलें

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इन बातों को भूलकर भी गूगल पर न करें सर्च, बढ़ सकती हैं आपकी मुश्किलें

नई दिल्ली। आमतौर पर किसी भी नई चीज के बारे में जानकारी हासिल करने के हम गूगल सर्च इंजन का सहारा लेते हैं। यहां कुछ भी डालो और उसके बारे मंे फौरन जानकारी मिल जाती है। क्या आपको पता है कि कुछ ऐसी भी चीजें हैं जिनके बारे में गूगल पर कभी भी सर्च नहीं करना चाहिए। आइए हम आपको बताते हैं इसके बारे में।

-अपराध संबंधित जानकारी के बारे में सर्च

गूगल पर भूलकर भी कभी कुछ संदिग्ध या संदेहजनक चीजें सर्च न करें। क्योंकि साइबर पुलिस की नजर अक्सर ऐसे लोगों पर होती है जो कि कुछ संदिग्ध सर्च कर रहे हैं। चाहें आपने ऐसे ही कोई संदिग्ध साइट सर्च की तो ऐसा करने पर हो सकता है कि आपको हवालात की हवा खानी पड़े।

-अपनी आइडेंटिटी 

गूगल सर्च में यह सुविधा होती है कि वह आपके सर्च के अनुसार आपकी पहचान पता करने के लिए सर्च करती है। क्योंकि गूगल के पास आपकी सर्च हिस्ट्री का पूरा डाटाबेस होता है। ऐसे में कई बार जानकारी लीक होने का खतरा रहता है। इसके अलावा आपकी पहचान के सर्च के आधार पर ही आपको विज्ञापन भी भेजे जाते हैं। 

-मेडिकल और ड्रग्स से जुड़ी जानकारी 


जब आप गूगल पर बीमारी और मेडिसिन से जुड़ी कोई भी चीज सर्च करते हैं तो यह डाटा थर्ड पार्टी को ट्रांसफर कर दिया जाता है। इस आधार पर आपको उस बीमारी एवं उसके ट्रीटमेंट से संबंधित विज्ञापन दिखाए जाते हैं। इसके बाद यह मेडिकल जानकारी क्रिमिनल वेबसाइट्स को भी शेयर की जाती है। ये मेडिकेड फ्रॉड तथा अन्य कई स्कैम में उपयोग होती है।  

-असुरक्षा से संबंधित सर्च

गूगल पर असुरक्षा से जुड़ी कोई भी जानकारी यदि आप सर्च करते हैं तो आपके पास उससे संबंधित विज्ञापन आने शुरू हो जाते हैं। जिससे आप यह जान सकते हैं कि कोई आपको इंटरनेट पर फॉलो कर रहा है। यदि आप चाहते हैं कि असुरक्षा से जुड़े विज्ञापन आपको परेशान न करें तो इसके लिए आप गूगल पर इसे सर्च करने से बचें।

-ईमेल आईडी नहीं करें सर्च

अपनी पर्सनल ईमेल लॉगइन को गूगल पर सर्च करने से परहेज करें, ऐसा करने पर आपका अकाउंट हैक और पासवर्ड लीक होने की समस्या होती है। जिसके बाद आपकी ईमेल आईडी के माध्यम से आप किसी घोटाले में भी फंस सकते हैं। 

Todays Beets: