Monday, March 18, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

अब मुफ्त में नहीं देख पाएगें यूट्यूब चैनल, चुकाने होंगे पैसे

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब मुफ्त में नहीं देख पाएगें यूट्यूब चैनल, चुकाने होंगे पैसे

नई दिल्ली। अगर आप भी यूटयूब पर वीडियो देखते और सब्सक्राइब करते हैं तो इस बात को जान ले कि अब यूटयूब पर वीडियो देखने के लिए पैसे देने होगें। नहीं तो आप वीडियो नहीं देख पाएगें। यूट्यूब के चीफ प्रोडक्ट अधिकारी नील मोहन ने बताया कि गूगल के मालिकाना हक वाली इस सेवा में वर्तमान में ज्यादातर कमाई विज्ञापनों से होती है। नील ने कहा,  'अभी भी मुख्य ध्यान इस पर ही होगा लेकिन हम विज्ञापनों से इतर भी सोचना चाहते हैं। वीडियो बनाने वालों के पास पैसा कमाने के कई तरीके और अवसर होने चाहिए।

ये भी पढ़े-गूगल इंडिया लेकर आया neighbourly एप,  अब जानकारियां पाना होगा और भी आसान

यूट्यूब चैनल वाले कमा सकते है अधिक लाभ

यूट्यूब ने युट्यूब पर चैनल चलाने वाले लोगों को पैसे कमाने का एक नया तरीका दिया है। अब यूट्यूब चैनलो के जरिए अपने सब्सक्राइबर और दर्शकों से पैसे भी ले सकेंगे।


गौरतलब है कि अब ऐसे चैनल जिनके 1,00,000 से अधिक सब्सक्राइबर हैं तो वे पेड सब्सक्रिप्शन भी शुरू कर सकते हैं और अपने सब्सक्राइबर से 4.99 डॉलर यानी लगभग 320 रुपये मासिक शुल्क ले सकते हैं। गूगल ने यह भी कहा है कि वीडियो बनाने वाले शर्ट या फोन के कवर जैसी वस्तुएं भी अपने चैनल पर बेच सकेंगे।

ये भी पढ़े-आनंद महिंद्रा बोले- हम ला रहे है स्वदेशी सोशल मीडिया नेटवर्क 'पीपल' , डेटा लीक की नहीं होगी गुंजाइश

इसी प्रकार कई सोशल मीडिया और इंटरनेट कंपनियां अब अपनी कमाई पर ध्यान देने लगी हैं। हाली ही में फेसबुक ने ग्रुप के लिए सब्सक्रिप्शन फीचर पेश किया है। इसके अलावा फेसबुक अब मैसेंजर में भी विज्ञापन दिखाना शुरू कर दिया है।

Todays Beets: