Thursday, July 19, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

अब मुफ्त में नहीं देख पाएगें यूट्यूब चैनल, चुकाने होंगे पैसे

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब मुफ्त में नहीं देख पाएगें यूट्यूब चैनल, चुकाने होंगे पैसे

नई दिल्ली। अगर आप भी यूटयूब पर वीडियो देखते और सब्सक्राइब करते हैं तो इस बात को जान ले कि अब यूटयूब पर वीडियो देखने के लिए पैसे देने होगें। नहीं तो आप वीडियो नहीं देख पाएगें। यूट्यूब के चीफ प्रोडक्ट अधिकारी नील मोहन ने बताया कि गूगल के मालिकाना हक वाली इस सेवा में वर्तमान में ज्यादातर कमाई विज्ञापनों से होती है। नील ने कहा,  'अभी भी मुख्य ध्यान इस पर ही होगा लेकिन हम विज्ञापनों से इतर भी सोचना चाहते हैं। वीडियो बनाने वालों के पास पैसा कमाने के कई तरीके और अवसर होने चाहिए।

ये भी पढ़े-गूगल इंडिया लेकर आया neighbourly एप,  अब जानकारियां पाना होगा और भी आसान

यूट्यूब चैनल वाले कमा सकते है अधिक लाभ

यूट्यूब ने युट्यूब पर चैनल चलाने वाले लोगों को पैसे कमाने का एक नया तरीका दिया है। अब यूट्यूब चैनलो के जरिए अपने सब्सक्राइबर और दर्शकों से पैसे भी ले सकेंगे।


गौरतलब है कि अब ऐसे चैनल जिनके 1,00,000 से अधिक सब्सक्राइबर हैं तो वे पेड सब्सक्रिप्शन भी शुरू कर सकते हैं और अपने सब्सक्राइबर से 4.99 डॉलर यानी लगभग 320 रुपये मासिक शुल्क ले सकते हैं। गूगल ने यह भी कहा है कि वीडियो बनाने वाले शर्ट या फोन के कवर जैसी वस्तुएं भी अपने चैनल पर बेच सकेंगे।

ये भी पढ़े-आनंद महिंद्रा बोले- हम ला रहे है स्वदेशी सोशल मीडिया नेटवर्क 'पीपल' , डेटा लीक की नहीं होगी गुंजाइश

इसी प्रकार कई सोशल मीडिया और इंटरनेट कंपनियां अब अपनी कमाई पर ध्यान देने लगी हैं। हाली ही में फेसबुक ने ग्रुप के लिए सब्सक्रिप्शन फीचर पेश किया है। इसके अलावा फेसबुक अब मैसेंजर में भी विज्ञापन दिखाना शुरू कर दिया है।

Todays Beets: