Sunday, March 24, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

फेक न्यूज फैलाने वालों पर चला ट्विटर का ‘डंडा’, 7 करोड़ अकाउंट्स को किया सस्पेंड

अंग्वाल न्यूज डेस्क
फेक न्यूज फैलाने वालों पर चला ट्विटर का ‘डंडा’, 7 करोड़ अकाउंट्स को किया सस्पेंड

नई दिल्ली। देश दुनिया में फेक न्यूज के बढ़ते चलन को कम करने के लिए ट्विटर ने एक बड़ा कदम उठाया है। ट्विटर ने अपनी यह कार्रवाई मई-जून में ही शुरू कर दी थी। इसके तहत ट्विटर ने 2 महीनों में 7 करोड़ अकाउंट्स को सस्पेंड कर दिया है। बता दें कि ट्विटर ने यह कार्रवाई ट्रोल्स को हटाने के लिए की है। सूत्रों के मुताबिक ट्विटर पर फेक अकाउंट के कारण अमेरिका के स्थानीय चुनाव के प्रभावित होने की संभावना है। बढ़ते राजनीतिक दबाव के बाद ट्विटर ने फेक अकाउंट्स को बंद कर दिया है। स्पैम और फेक अकाउंट्स को बंद करने के लिहाज से यह ट्विटर कि सब से बड़ी कार्रवाई है।

ये भी पढ़े-व्हाट्सएप लाया नया फीचर, अब ग्रुप एडमिन तय करेगा कौन मैसेज करेगा कौन नहीं

रिपोर्ट के अनुसार गैरजरूरी अकाउंट्स को डिलीट करने को लेकर उठाए गए ट्विटर के कदमों का असर यूजर्स की संख्या पर पड़ सकता है। माना जा रहा है कि यह संख्या दूसरे क्वार्टर में कम हो सकती है।

इससे पहले पिछले महीने ट्विटर ने ट्रोल्स, दुर्व्यवहार और हिंसक अतिवाद पर नई नीतियों के बनाने का ऐलान किया था। उन्होंने कहा था कि हम स्पैम और दुर्व्यवहार से लड़ने के लिए नई तकनीक और कर्मचारियों को ला रहे हैं।


ये भी पढ़े-फेसबुक ने नफरत फैलाने वाले 58 करोड़ अकाउंट को किया बंद, पोस्ट भी किए डिलीट 

गौरतलब है कि जून में लिखे गए अपने आधिकारिक ब्लॉग पोस्ट में ट्विटर के ट्रस्ट एंड सेफ्टी वाइस प्रेसिडेंट डेल हार्वे ने ट्विटर पर बातचीत में सुधार करने पर फोकस करने की बात कही थी ताकि यूजर्स को ट्विटर पर विश्वसनीय, प्रासंगिक और उच्च गुणवत्ता वाली जानकारी मिल सके।

 

Todays Beets: