Wednesday, September 19, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

हरियाणा की पंचायत का ऐलान बिना शौचालय वाले घरों में नहीं ब्याही जाएंगी लड़कियां

प्रियंका गुप्ता
हरियाणा की पंचायत का ऐलान बिना शौचालय वाले घरों में नहीं ब्याही जाएंगी लड़कियां

चंड़ीगढ़। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के तहत हरियाणा की एक पंचायत ने बड़ा ही अहम फैसला लिया है। इस फैसले के तहत उन्होंने कहा की हम अपने गांव-घर की बेटियों की शादी ऐसे घरों में नहीं करेंगे जिन घरों में शौचालय नहीं होंगे। हरियाणा के सिरसा जिले के गोडिकान गांव की पंचायत ने बताया की उन्होंने सर्वसम्मति से 8 जून को यह फैसला लिया है।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भी पंचायत के इस फैसले को सराहा है और कहा कि ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वच्छ भारत अभियान खुले में शौच मुक्त भारत और हर घर में शौचालय की कल्पना करता है। गोडिकान गांव का फैसला सच में सराहनीय है। ‘


ये भी पढ़े-स्मार्टफोन इस्तेमाल करने के मामले में भारत अभी भी फिसड्डी, गरीब देश भी हैं आगे

गौरतलब है कि हरियाणा सरकार ने गांव के सरपंचों को स्वच्छ भारत की योजना के तहत काम करने के लिए और स्वच्छता के प्रति जागरुक करवाने के लिए ‘टॉयलेट- एक प्रेम कथा’ फिल्म की विशेष प्रस्तुति रखी थी। इस फिल्म से प्ररेणा लेते हुए पंचायत ने अपने प्रस्ताव में यह ऐलान किया की वो अपने गांव की बहन बेटियों की शादी उन्ही घरों में करेंगे जंहा शौचालय की सुविधा उपल्बध हो।

Todays Beets: