Wednesday, September 19, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

रेलवे की नई पहल हिन्दी में ही आवेदन देने पर मिलेगी छुट्टी

प्रियंका गुप्ता
रेलवे की नई पहल हिन्दी में ही आवेदन देने पर मिलेगी छुट्टी

जमशेदपुर। मातृ भाषा हिन्दी को बढ़वा देने के लिए जमशेदपुर के चक्रधरपुर मंडल में एक नई पहल शुरू की है। इसके तहत रेलवे कर्मचारियों को काम से विभागीय से छुट्टी लेने के लिए हिन्दी में ही आवेदन करना होगा। अंग्रेजी में दिए गए आवेदनों के स्वीकार नहीं किया जाएगा। बता दें कि सीनियर डीसीएम भास्कर के प्रयास के कारण रेल मंडल के वाणिज्य विभाग में ये नई पहल पुरी तरह शुरू हो गई है। वहीं हिन्दी को बढ़वा देने के लिए लोक एंव क्रर्मिक समेत अन्य विभागों में भी हिन्दी में काम करने पर जोर दिया जा रहा है।

रेलवे देता है पुरस्कार

हिन्दी में काम करने वाले कर्मचारियों को रेलवे पुरस्कार दे कर सम्मानित करता है।  टाटानगर में बुकिंग क्लर्क से लेकर कई अधिकारियों को हिन्दी के कारण पुरस्कार मिला है। यहा तक की टिकट निरीक्षक कक्ष में ड्यूटी रोस्टर तक हिन्दी में बनया जा है। 

हिन्दी का कर रहें प्रचार-प्रसार


हिन्दी भाषा के प्रचार-प्रसार के लिए रेलवे राज्यभाषा विभाग व अधिकारियों को नियुक्त किया गया हैं जो अलग – अलग स्टेशनों पर घूम-घूम कर इसका प्रचार और संगोष्ठी करते हैं। इसके साथ ही टाटानगर स्टेशन पर एक पुस्तकालय खोला गया है जहां इससे संबधिंत कार्यक्रम किए जाते हैं।

प्राप्त नहीं ऑनलाइन सुविधा

छुट्टी के लिए रेलवे में ऑनलाइन व्यवस्था न तो अब तक शुरू हुई है और न ही रेलवे बोर्ड से अब तक कोई आदेश मिला है। चक्रधरपुर मंडल मेंस कांग्रेस के संयोजक शशि मिश्रा ने बताया कि छुट्टी हमेशा विभाग या सेक्शन के सुपरवाइजर देते हैं। कंप्यूटराइज्ड न होने के कारण ऑनलाइन सुविधा नहीं है। हिन्दी में रेलकर्मी आवेदन देने लगे हैं, क्योंकि अंग्रेजी से ज्यादा सरल हैं। 

 

Todays Beets: