Monday, September 24, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

मस्जिद के बाहर लड़कियों ने किया डांस, खामियाजा भुगतना पड़ा पर्यटकों को

प्रियंका गुप्ता
मस्जिद के बाहर लड़कियों ने किया डांस, खामियाजा भुगतना पड़ा पर्यटकों को

नई दिल्ली। मलेशिया की एक मस्जिद के सामने कुछ औरतों के तंग कपड़े पहन कर नृत्य करने का एक वीडियो ऑनलाइन वायरल होने के बाद यहां आने वाले पर्यटकों पर पाबंदी लगा दी गई है।  कोटा किनाबालु शहर स्थित मुख्य मस्जिद के बाहर एक दीवार पर तंग कपड़ों में नृत्य करते हुए दो महिलाओं का वीडियो बना लिया गया। वे देखने में पूर्वी एशियाई लगती हैं यह स्थान पर्यटकों के बीच काफी लोकप्रिय है। मस्जिद प्रमुख जमाल साकरन ने पर्यटकों के ऐसे व्यवहार की आलोचना करते हुए सप्ताह के अंत तक पर्यटकों के यहां आने पर अस्थायी रुप से  रोक का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि इस कदम का उद्देश्य इस्लाम की पवित्रता को बचाए रखना है। 

ये भी पढ़े-मां-बाप का आतंकी बन चुके बेटे से गुहार, कहा- खुदा के लिए वापस आ जाओ

वहीं दूसरी तरफ इस घटना में नजर आने वाली महिलाओं के प्रांत की पहचान नहीं की जा सकी है ऐसे में प्रांतीय पर्यटन मंत्री क्रिस्टीना लीव का कहना है कि उन महिलाओं के खिलाफ किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं की जा सकती क्योंकि उन महिलाओं को यह पता ही नहीं है कि उन्होंने क्या अनुचित किया है।  लेकिन अधिकारी उनका पता लगाना चाहते हैं, ताकि उन्हें बताया जा सके कि जिसे वे मजा समझते हैं वह दरअसल असम्मानजनक हरकत है और साबाह में उसे उचित नहीं माना जाता है। 

ये भी पढ़े-समुद्र के किनारे सेल्फी लेने वाले हो जाएं सावधान, गोवा सरकार ने जारी किए निर्देश


गौरतलब है कि मुस्लिम बहुल देश मलेशिया में दूर-दूर से पर्यटक मस्जिदों की यात्रा करने आते हैं। यहां मुस्लिम परंपरा को खासा तवज्जो दिया जाता है।

 

 

Todays Beets: