Saturday, July 21, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

मस्जिद के बाहर लड़कियों ने किया डांस, खामियाजा भुगतना पड़ा पर्यटकों को

प्रियंका गुप्ता
मस्जिद के बाहर लड़कियों ने किया डांस, खामियाजा भुगतना पड़ा पर्यटकों को

नई दिल्ली। मलेशिया की एक मस्जिद के सामने कुछ औरतों के तंग कपड़े पहन कर नृत्य करने का एक वीडियो ऑनलाइन वायरल होने के बाद यहां आने वाले पर्यटकों पर पाबंदी लगा दी गई है।  कोटा किनाबालु शहर स्थित मुख्य मस्जिद के बाहर एक दीवार पर तंग कपड़ों में नृत्य करते हुए दो महिलाओं का वीडियो बना लिया गया। वे देखने में पूर्वी एशियाई लगती हैं यह स्थान पर्यटकों के बीच काफी लोकप्रिय है। मस्जिद प्रमुख जमाल साकरन ने पर्यटकों के ऐसे व्यवहार की आलोचना करते हुए सप्ताह के अंत तक पर्यटकों के यहां आने पर अस्थायी रुप से  रोक का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि इस कदम का उद्देश्य इस्लाम की पवित्रता को बचाए रखना है। 

ये भी पढ़े-मां-बाप का आतंकी बन चुके बेटे से गुहार, कहा- खुदा के लिए वापस आ जाओ

वहीं दूसरी तरफ इस घटना में नजर आने वाली महिलाओं के प्रांत की पहचान नहीं की जा सकी है ऐसे में प्रांतीय पर्यटन मंत्री क्रिस्टीना लीव का कहना है कि उन महिलाओं के खिलाफ किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं की जा सकती क्योंकि उन महिलाओं को यह पता ही नहीं है कि उन्होंने क्या अनुचित किया है।  लेकिन अधिकारी उनका पता लगाना चाहते हैं, ताकि उन्हें बताया जा सके कि जिसे वे मजा समझते हैं वह दरअसल असम्मानजनक हरकत है और साबाह में उसे उचित नहीं माना जाता है। 

ये भी पढ़े-समुद्र के किनारे सेल्फी लेने वाले हो जाएं सावधान, गोवा सरकार ने जारी किए निर्देश


गौरतलब है कि मुस्लिम बहुल देश मलेशिया में दूर-दूर से पर्यटक मस्जिदों की यात्रा करने आते हैं। यहां मुस्लिम परंपरा को खासा तवज्जो दिया जाता है।

 

 

Todays Beets: