Tuesday, July 17, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

आम आदमी पार्टी की गर्भवती महिला विधायक ने एलजी ऑफिस पर लगाए आरोप, कहा- दवाएं तक नहीं लेने दी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आम आदमी पार्टी की गर्भवती महिला विधायक ने एलजी ऑफिस पर लगाए आरोप, कहा- दवाएं तक नहीं लेने दी

नई दिल्ली । आम आदमी पार्टी की एक गर्भवती विधायक सरिता सिंह ने एलजी आफिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उनका कहना है कि मैं सात माह की गर्भवती हूं, बावजूद इसके एलजी ऑफिस ने मुझे दवाइयां नहीं खाने दी और न ही मुझे खाना खाने की अनुमति नहीं दी गई। बता दें कि सरिता आम आदमी पार्टी के उन विधायकों में शामिल थी, जिन्होंने गुरुवार को राज निवास पर घंटो डेरा डाला हुआ था। हालांकि राजनिवास के एक अधिकारी ने इन आरोपों पर कहा है कि विधायक ने उन्हें सूचित नही किया था उन्हें दवाई या भोजन की आवश्यकता है। 

आप विधायक सरिता सिंह ने अपने साथ हुए व्यवहार के लिए एक पत्र एलजी अनिल बैजल को लिखा है। इस खत में उन्होंने कहा- आपके अधिकारियों ने कहा कि यह उपराज्यपाल का आदेश है कि हमें कुछ भी नहीं दिया जाना चाहिए। हालांकि हमनें पीने के लिए पानी और चाय दिए जाने का बार-बार अनुरोध किया लेकिन हमें कुछ भी खाने को नहीं दिया गया। सरिता का कहना है कि मैं सात महीने की गर्भवती हूं, ऐसे में विधायक अलका लाम्बा, सोमनाथ भारती ने एलजी कार्यालय के स्टाफ से अनुरोध किया कि उन्हें कार से दवाइयां और भोजन लाने की अनुमति दी जाए, लेकिन एलजी कार्यालय ने इसकी अनुमति नहीं दी। 


हालांकि इन आरोपों पर राजनिवास के एक अधिकारी ने कहा कि उन्हें इस प्रकार की किसी बात का कोई आग्रह नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि राज निवास में एक एंबुलेंस का भी एहतियातन प्रबंध किया गया था और महिला एवं पुरूष चिकित्सक भी मौजूद थे। 

Todays Beets: