Monday, January 21, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

इस बार केजरीवाल नहीं लड़ेंगे लोकसभा का चुनाव, दिल्ली की समस्याओं पर रखेंगे नजर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इस बार केजरीवाल नहीं लड़ेंगे लोकसभा का चुनाव, दिल्ली की समस्याओं पर रखेंगे नजर

नई दिल्ली। पिछली बार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ वाराणसी से चुनाव लड़ने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को एक बड़ा ऐलान किया है। केजरीवाल ने कहा कि इस बार वे लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगे और दिल्ली पर ही फोकस करेंगे। बता दें कि बनारस से चुनाव लड़ने पर केजरीवाल को विपक्षी नेताओं ने उन्हें भगोड़ा तक करार दिया था। फतेहाबाद में उन्होंने पराली जलाने के लिए किसानों के बजाय भाजपा और पड़ोसी राज्यों को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि वे पंजाब और हरियाणा के मुख्यमंत्रियों के चक्कर काटकर थक चुके हैं लेकिन कोई हल नहीं निकला।

गौरतलब है कि साल 2014 में अरविंद केजरीवाल नरेन्द्र मोदी के खिलाफ वाराणसी से चुनाव लड़े थे और हार गए थे। इसके बाद विपक्षी दलों ने उनकी कड़ी आलोचना करते हुए उन्हें भगोड़ा तक करार दिया था। इसके बाद इस बार उन्होंने लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला लिया है। 

ये भी पढ़ें - सीएम योगी ने राममंदिर निर्माण का दिया संकेत! बोले- दीपावली पर खुशखबरी लेकर आ रहा हूं, जल्द कु...


यहां बता दें कि अरविंद केजरीवाल ने इस पर दिल्ली की समस्याओं पर ही अपना ध्यान केंद्रित करने का फैसला लिया है। उन्होंने कहा कि फिलहाल पराली जलाने के चलते हो रहा प्रदूषण एक बड़ी समस्या है। केजरीवाल ने पराली जलाने के लिए किसानों के बजाय राजनीतिक दलों को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि इस समस्या के निदान के लिए वे केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन से लेकर पंजाब और हरियाणा के मुख्यमंत्रियों से मुलाकात कर चुके हैं लेकिन इसका कोई हल नहीं निकल सका।  

 

Todays Beets: