Sunday, February 17, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

जदयू छात्र समागम में नीतीश कुमार पर युवक ने फेंकी चप्पल, सुरक्षाकर्मियों ने किया गिरफ्तार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जदयू छात्र समागम में नीतीश कुमार पर युवक ने फेंकी चप्पल, सुरक्षाकर्मियों ने किया गिरफ्तार

पटना। पटना के बापू सभागार में आयोजित जदयू छात्र समागम कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ऊपर एक छात्र ने अचानक चप्पल फेंक दी। हालांकि चप्पल मंच पर पहले ही गिर गया लेकिन सीएम के सुरक्षाकर्मियों ने आरोपी छात्र को फौरन हिरासत में ले लिया। अब उससे पूछताछ की जा रही है। बता दें कि इससे पहले भी साल 2016 में एक सभा के दौरान उनपर किसी ने जूता फेंक दिया था।

गौरतलब है कि जदयू छात्र समागम में हिस्सा लेने पूरे बिहार से छात्र पटना पहुंचे थे। इस कार्यक्रम में छात्रों को संबोधित करने के लिए वहां पहुंचे सीएम नीतीश कुमार भी वहां पहुंचे थे। सीएम के अलावा प्रशान्त किशोर सहित पार्टी के कई नेता भी मौजूद थे। कार्यक्रम के बीच में ही चंदन कुमार नाम के एक छात्र ने सीएम के ऊपर चप्पल फेंक दिया। हालांकि चप्पल मुख्यमंत्री के करीब नहीं पहुंचा और मंच से पहले ही गिर गया। वहां मौजूद लोगों ने छात्र को पकड़कर जमकर पीटा है। सीएम के सुरक्षा गार्डों ने फौरन चंदन नाम के छात्र को हिरासत में ले लिया है और फिलहाल उससे पूछताछ की जा रही है। 


ये भी पढ़ें - राजस्थान में चुनाव से पहले भाजपा को ‘बागी' नेता देंगे चुनौती, 29 अक्टूबर को करेंगे किसान महाह...

आपको बता दें कि इससे पहले भी साल 2016 में एक सभा के दौरान उनपर किसी ने जूता फेंक दिया था जब वे महिलाओं के लिए 35 फीसदी आरक्षण और शराबबंदी के ऊपर बोल रहे थे। हालांकि उसमें भी जूता उन्हें लगा नहीं था।  

Todays Beets: