Tuesday, January 22, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

छत्तीसगढ़ में इस सीट पर सिंहदेव के सामने सिंहदेव, हाईप्रोफाइल होगा मुकाबला

अंग्वाल न्यूज डेस्क
छत्तीसगढ़ में इस सीट पर सिंहदेव के सामने सिंहदेव, हाईप्रोफाइल होगा मुकाबला

रायपुर। छत्तीसगढ़ में इसी महीने 12 और 20 नवंबर को मतदान होना है। इसके लिए राजनीतिक पार्टियां अपने उम्मीदवारों की सूची जारी कर चुकी है। मुख्य पार्टियां भाजपा और कांग्रेस दोनों ने अंबिकापुर हाई प्रोफाइल सीट पर से है सिंहदेव को मैदान में उतारा है। जी हां, इस सीट पर कांग्रेस की ओर से नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव और भाजपा की ओर से अनुराग सिंहदेव को मैदान में उतारा है। बता दें कि दोनों उम्मीदवारों के बीच तीसरी बार मुकाबला हो रहा है। 

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में अंबिकापुर सीट को हाईप्रोफाइल सीट माना जाता है। इससे पहले टीएस सिंहदेव भाजपा के अनुराग सिंहदेव को दो बार हरा चुके हैं। साल 2008 में जब यह सीट सामान्य श्रेणी की हुई तब टीएस सिंहदेव ने करीबी मुकाबले में अनुराग सिंहदेव को मात्र 900 वोटों से हराया था। वहीं पिछले विधानसभा चुनाव में टीएस सिंहदेव ने भाजपा प्रत्याशी अनुराग सिंहदेव को 19 हजार से ज्यादा वोटों से हराया।

ये भी पढ़ें - रालोसपा नेता की तल्खी नहीं हो रही कम, बढ़ी लोकप्रियता के हिसाब से मांगी सीटें


यहां बता दें कि कांग्रेस ने भाजपा पर तंज करते हुए कहा कि 2 बार हार चुके प्रत्याशी को उतारकर उसका काम आसान कर दिया है। वे तीसरी बार भी हारेंगे। वहीं भाजपा के अनुराग सिंहदेव निगम में कांग्रेस की विफलता को आधार बनाकर चुनाव लड़ रहे हैं।

गौर करने वाली बात है कि टीएस सिंहदेव का रुतबा पूरे छत्तीसगढ़ में है। वे इतने लोकप्रिय हैं कि लोग उन्हें राजा जी या राजा साहब बुलाने की बजाय टीएस बाबा कहकर पुकारते हैं। बता दें कि टीएस सिंहदेव राज्य के सबसे अमीर विधायक हैं। 

 

Todays Beets: